Published on 2017-11-08

मुम्बई। महाराष्ट्र
महिला मण्डल दहिसर ने अपने 'संवेदना' अभियान के अंतर्गत दीपावली पर्व पर अनोखी 'संगीत संध्या' का आयोजन किया। इसमें 'नेशनल आॅर्गेनाइज़ेशन आॅफ डिसेबल्ड आर्टिस्ट (नोडा)' से जुड़े सूरदास कलाकारों ने गीत एवं भजन गाये। यह समारोह दीपावली के अवसर पर विभिन्न वृद्धाश्रमों में रह रहे लोगों, कैंसर पीड़ितों, अनाथाश्रम के बच्चों के चेहरों पर मुस्कान बिखेरने का विनम्र प्रयास था, जिन्हें श्रोताओं के रूप में आमंत्रित किया गया था।

संगीत संध्या प्रबोधन नाट्य आॅडिटोरियम, बोरीवली में आयोजित की गयी थी। महिला मण्डल बोरीवली की प्रमुख कार्यकर्त्ता बहनें श्रीमती कुमारी शेट्टी, अभिनव शेट्टी, श्रीमती जयलक्ष्मी शेट्टी, श्रीमती जयश्री कोटियान, श्रीमती आशा सोमानी ने इस कार्यक्रम की सफलता के लिए अथक पुरुषार्थ किया। श्री किशोर गोहिल के नेतृत्व में ११ देशों में २००० से अधिक कार्यक्रम प्रस्तुत करने वाले च्रोशनी' ग्रुप के कलाकारों ने अपनी प्रस्तुतियों से जनमन को उत्साह, उल्लास एवं सत्प्रेरणाओं से सराबोर कर दिया।

आरंभ में श्री जतीन दवे एवं महिला मण्डल की बहनों ने कलाकारों का गायत्री मंत्र का उपवस्त्र ओढ़ाकर भावभरा स्वागत किया। श्री जतीन दवे ने उपस्थित सभा को हँसीखुशी भरा जीवन जीने के लिए परम पूज्य गुरुदेव के विचारों से जुड़ने और विभिन्न रचनात्मक कार्यों में सक्रिय भागीदारी करने के लिए भी प्रेरित किया।


Write Your Comments Here:


img

धर्म- चेतना के परिष्कार के लिए चल रहा है अत्यंत लोकप्रिय उपक्रम

पुष्कर, अजमेर। राजस्थान विश्वप्रसिद्ध तीर्थ पुष्करराज की पौराणिक गरिमा को अभिनव प्रेरणाओं के साथ पुनर्जाग्रत् करने और तीर्थ को जीवंत.....