Published on 2017-11-08
img

पूरनपुर, पीलीभीत। उत्तर प्रदेश

लक्ष्य एकेडमी महाविद्यालय पूरनपुर में १ अक्टूबर को अखिल विश्व गायत्री परिवार का विशाल युवा सम्मेलन सम्पन्न हुआ। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि गायत्री परिवार के समस्त युवाओं के प्रेरणास्रोत डॉ. चिन्मय पण्ड्याजी, प्रतिकुलपति देव संस्कृति विश्वविद्यालय थे। उन्होंने समय की माँग के अनुरूप उपस्थित लगभग ३००० युवाओं को उनके जीवन की गरिमा का बोध कराया। उन्हें यह विश्वास दिलाया कि आत्मबल जगाने की साधना और सूझबूझ के साथ जीवन जिया जाय, संगठित होकर कार्य किया जाय तो उनमें समाज में व्यापक परिवर्तन लाने की क्षमता है।

डॉ. चिन्मय जी ने कहा कि युवा परिस्थितियों का मुहताज नहीं, परिस्थितियों का निर्माता है। उसकी पहचान उसकी उम्र से नहीं, उसके काम से होनी चाहिए। उसे समाज के उत्कर्ष के किसी न किसी काम से अपनी पहचान बनानी चाहिए। सम्मेलन में भाग ले रहे युवा वृक्षारोपण, स्वच्छता, नशामुक्ति, बाल संस्कारशाला जैसे किसी अभियान को गति देने का संकल्प लेकर जाते हैं, इसी में कार्यक्रम की सफलता है।

इससे पूर्व कार्यक्रम का आरंभ डॉ. विनोद तिवारी, पूर्व राज्यमंत्री स्वास्थ्य उ.प्र. ने डॉ. चिन्मय जी के साथ दीप प्रज्वलन कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। शांतिकुंज प्रतिनिधि ने डॉ. तिवारी जी एवं अन्य गणमान्य विधायक श्री बाबूराव पासवान, श्री संजय गंगवार, श्री चेतराम का साहित्य एवं उपवस्त्र भेंट कर स्वागत किया। महाविद्यालय के अध्यक्ष श्री रवि गुप्ता का इस आयोजन में विशेष सहयोग रहा। गायत्री परिवार के श्री लालता प्रसाद शास्त्री ने कार्यक्रम का संचालन किया।


Write Your Comments Here:


img

धर्म- चेतना के परिष्कार के लिए चल रहा है अत्यंत लोकप्रिय उपक्रम

पुष्कर, अजमेर। राजस्थान विश्वप्रसिद्ध तीर्थ पुष्करराज की पौराणिक गरिमा को अभिनव प्रेरणाओं के साथ पुनर्जाग्रत् करने और तीर्थ को जीवंत.....