Published on 2017-11-11

• कुश्ती प्रतियोगिता में उत्कृष्ट प्रदर्शन
• ५ खिलाड़ी का राष्ट्रीय प्रतियोगिता के लिए चयनित

देव संस्कृति विश्वविद्यालय और उत्तराखंड कुश्ती संघ के संयुक्त तत्त्वावधान में देव संस्कृति विश्वविद्यालय में तृतीय राज्य स्तरीय कुश्ती प्रतियोगिताएँ 'पं.श्रीराम शर्मा आचार्य खेल अभियान' का आयोजन हुआ। देव संस्कृति विश्वविद्यालय और ऊधमसिंह नगर जिले का पूरे आयोजन में वर्चस्व रहा। लगभग १०० खिलाड़ियों ने इसमें भाग लिया, जिनमें से देव संस्कृति विश्वविद्यालय के ५ खिलाड़ियों का चयन १५ से १८ नवम्बर की तारीखों में इंदौर में होने वाली राष्ट्रीय कुश्ती प्रतियोगिता में राज्य का प्रतिनिधित्व करने के लिए हुआ है।

देव संस्कृति विश्वविद्यालय का गौरव
देव संस्कृति विश्वविद्यालय के १५ खिलाड़ियों को पदक प्राप्त करने का गौरव मिला। हरिमोहन, हर्षवर्धन, मंशा, आरती, गीता, प्रज्ञा गोरे ने अपने- अपने वर्ग में स्वर्ण पदक प्राप्त किये। आभारानी, संध्या कश्यप, राजलक्ष्मी, आरती द्वितीय स्थान पर रहीं, जबकि अर्णव, प्रभाकर, रुचि सिंह, मिताली ने तीसरा स्थान प्राप्त किया। हरिमोहन, मंशा, आरती, गीता तथा प्रज्ञा गोरे का चयन राष्ट्रीय कुश्ती प्रतियोगिता में उत्तराखंड का प्रतिनिधित्व करने के लिए किया गया है।

देव संस्कृति विश्विविद्यालय के श्री नरेन्द्र गिरि को बेस्ट रेसलिंग कोच का पुरस्कार और श्री ओमवीर सिंह को उत्तराखंड कुश्ती रत्न सम्मान प्रदान किया गया।

प्रतियोगिता का शुभारंभ देसंविवि के कुलपति श्री शरद पारधी, कुलसचिव श्री संदीप कुमार एवं उत्तराखंड ओलम्पिक संघ के महासचिव डॉ. डी.के. सिंह ने संयुक्त रूप से किया। विजेताओं को सम्मानित किया। खेल अधिकारी नरेन्द्र सिंह ने समापन समारोह में सभी अधिकारी, खिलाड़ियों का धन्यवाद ज्ञापन किया।


Write Your Comments Here:


img

anganwadi स्कूल मैं जाके गायत्री मंत्र और गायत्री माँ के चम्त्कार् के बारे मैं बताया

मैं यशवीन् मैंने आज राजस्थान के barmer के बालोतरा मैं anganwadi स्कूल मैं जाके गायत्री माँ के बारे मैं बच्चों को जागरूक किया और वेद माता के कुछ बातें बताई और महा मंत्र गायत्री का जाप कराया जिसे आने वाले.....

img

युग निर्माण हेतु भावी पीढ़ी में सुसंस्कारों की आवश्यकता जिसकी आधारशिला है भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा -शांतिकुंज प्रतिनिधि आ.रामयश तिवारी जी

वाराणसी व मऊ उपजोन की *संगोष्ठी गायत्री शक्तिपीठ,लंका,वाराणसी के पावन प्रांगण में संपन्न* हुई।जहां ज्ञान गंगा की गंगोत्री,*महाकाल का घोंसला,मानव गढ़ने की टकसाल एवं हम सभी के प्राण का केंद्र अखिल विश्व गायत्री परिवार शांतिकुंज,हरिद्वार* से पधारे युगऋषि के अग्रज.....

img

Yoga Day celebration

Yoga day celebration in Dharampur taluka district ValsadGaytri pariwar Dharampur.....