Published on 2017-11-22
img

लात्विया के २०-३० नागरिक डॉ. चिन्मय जी से प्रेरणा लेकर नियमित रूप से यज्ञ कर रहे हैं। उन्होंने डॉ. चिन्मय जी के संग सामूहिक यज्ञ का आयोजन किया। इसमें ४० लात्वियाई महानुभावों ने भाग लिया। सभी डॉक्टर अथवा वरिष्ठ जनप्रतिनिधि थे। शांतिकुंज प्रतिनिधि ने उन्हें बड़ी बारीकी के साथ यज्ञ का ज्ञान-विज्ञान समझाया, बताया कि व्यक्तित्व को ऊर्जावान एवं उपयोगी बनाये रखने में यह कैसे सहायक सिद्ध होता है।

डॉ. चिन्मय जी ने बताया कि गायत्री और यज्ञ के प्रति वहाँ के लोगों में आस्था निरंतर प्रगाढ़ होती जा रही है। एक-दो वर्षों में वहाँ गायत्री परिवार का केन्द्र विधिवत आरंभ हो जायेगा, ऐसी संभावना है।


Write Your Comments Here:


img

विदेशी धरती पर खिले भारतीय संस्कृति के रंगगायत्री परिवार

अटलांटिक सिटी (अमेरिका) ने स्वतंत्रता दिवस पर भारत की गौरवशाली संस्कृति और युग निर्माण आन्दोलन के सूत्र- सिद्धांतों से लोगों.....

img

मॉरिशस वासियों की श्रद्धांजलि

लोंग माउण्टेन के हिन्दी प्रचारिणी सभा भवन में गुरुपूर्णिमा पर्व बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। दीपमहायज्ञ की मनमोहक छटा,.....