Published on 2017-12-25
img

शांतिकुंज हरिद्वार – 12 जनवरी २०१६ को स्वामी विवेकानंद दिवस को गायत्री परिवार युवा चेतना दिवस के रूप में मनायेगा| कार्यक्रम में एक मशाल यात्रा और युवा सम्मेलन होगा| स्वामी जी जन्मदिवस पर 12 जनवरी और 15 जनवरी पर कार्यक्रम होंगे जिन  का प्रारूप इस प्रकार है |12 जनवरी- युवा चेतना दिवस 2017 के कार्यक्रम की रूपरेखा1. मशाल यात्रासृजनशील युवा सम्मेलन शुरू होने के लगभग एक घंटे पहले (सायं 5 बजे से) निर्धारित अलग-अलग स्थलों से प्रारम्भ की जायेगी और सम्मेलन शुरू होने के लगभग 15 मि. पहले सम्मेलन स्थल पर पहुँच जाएँगी| यात्रा में साथ आये प्रतिभागी शान्ति के साथ अनुशासन पूर्वक अपना स्थान ग्रहण करें।     क्रम :  निर्धारित स्थल पर तैयार मशाल लेकर निर्धारित टोली के सदस्य सायं 4.50 बजे पहुँचें। मशाल यात्रा एक या अलग अलग स्थानों से शुरू की जा सकती हैं|5 मि. सामूहिक जयघोष (युवा और राष्ट्रपरक) – सायं 5.00 बजेमशाल प्रज्वलन                             मंत्र- अग्नॆ नय सुपथा रायॆ अस्मान् विश्वानि दॆव वयुनानि विद्वान् ।                             युयॊध्यस्मज्जुहुराणमॆनो भूयिष्ठं तॆ नम उक्तिं विधॆम ||प्रज्वलित मशाल की ओर हाथ ऊँचा करके युग निर्माण सत्संकल्प के सूत्र क्रमांक 1, 7, 15, 16, 18 दुहरवाये जायें।मशाल के साथ नारे लगाते, बीच- बीच में जनता को युवा सम्मेलन में भाग लेने के लिए आमंत्रण देते, सभा स्थल तक पहुँचें।सायं 6 बजे सभी मशालों को मंच पर पहुँचा दें और सभी लोग अनुशासनपूर्ण सभा में शामिल हो जायें।2. सृजनशील युवा सम्मेलनयह मुख्य कार्यक्रम २ घण्टे की अवधि का होगा। जनता को आकर्षित-व्यवस्थित करने के लिए कुछ समय पहले से संगीत आदि की व्यवस्था बनायी जा सकती है।मशाल के बड़े चित्र या स्वामी विवेकानंद का कटाउट के सामने दीप प्रज्वलन एवं पुषाञ्जलि|आमंत्रित वक्ताओं को माल्यार्पणयुवा प्रेरणा गीतकार्यक्रम का उद्देश्य 30 मिनटआमंत्रित 2 या 3 वक्ता 40 मिनटसृजन संकल्प दुहरवाना 15 मिनट (सृजन संकल्प का प्रारूप पैनल में अलग से दिया गया है)समापन गीत 10 मिनट (गीत : हमारा है यह दृढ़ संकल्प ….)समापन-शांतिपाठ 5 मिनट|3. स्वच्छता, सेवा, श्रमदानयुवा सम्राट स्वामी विवेकानंद जी ने नर सेवा ही नारायण सेवा कहा था| अतः रविवार दिनांक 15 जनवरी 2017 को प्रातः 8 से 12  बजे तक स्वच्छता, सेवा, श्रमदान के कार्यक्रम स्थानीय सुविधा अनुसार किये जायेंगे|शासकीय चिकित्सालय, अनाथालय, वृध्दाश्रम, विद्यालयों, मंदिरों आदि में स्वच्छता, सेवा, श्रमदान|नोट :- कार्यक्रम से सम्बंदित जानकारी और सामग्री डाउनलोड करने के लिए नीचे लिंक पर क्लिक करेhttps://drive.google.com/open?id=0BwoyVbNmZgrHempzUG1HSFIyLXM


Write Your Comments Here:


img

दक्षिण भारत में देव संस्कृति दिग्विजय अभियान (दिनाँक-२ से ५ जनवरी २०२०)

दक्षिण भारत में अश्वमेध यज्ञों की शृंखला का छठवाँ अश्वमेध गायत्री महायज्ञ हैदराबाद (तेलंगाना) में होने जा रहा है। इससे पूर्व.....

img

डॉ. अमिताभ सर्राफ प्रो. सतीश धवन राज्य सम्मान ‘युवा अभियंता- 2018’ से सम्मानि

बंगलुरू। कर्नाटक गायत्री परिवार बंगलूरू के वरिष्ठ विद्वान कार्यकर्त्ता डॉ. अमिताभ सर्राफ को कर्नाटक सरकार की ओर से ‘प्रो......

img

dqsdqsd

sqsqdsqdqs.....