Published on 2017-12-28
img

घर-घर, गॉव-गॉव तुलसी रोपण
जोबट, उदयगढ़, कठ्ठीवाड़ा, सोंडवा, अलीराजपुर, चंद्रशेखर आजाद नगर में लगाये ४००० पौधे

जोबट, अलीराजपुर। म.प्र.
युवा प्रकोष्ठ जोबट ने जोबट व आसपास के नगरों में तुलसी की पौध और युगऋषि का साहित्य घर- घर पहुँचाने का अभियान चलाया। ज्ञानरथ पर गायत्री माता व गुरुदेव- माताजी का चित्र स्थापित किया, एक हाथठेले पर तुलसी की पौध व साहित्य रखा और चल पड़े इन नगरों की गली- गली में घर- घर संपर्क करने। अकेले जोबट में १२०० और जिले में कुल ४००० घरों में तुलसी की पौध का विधि- विधान से पूजन कर उन्हें गमलों में रोपा गया। नगरवासियों को तुलसी आध्यात्मिक व स्वास्थ्यवर्धक गुणों की जानकारी दी गयी।

जिला संयोजक श्री ओमप्रकाश राठौड़ के अनुसार 'हारिये न हिम्मत', 'आत्मविश्वास कैसे बढ़ायें', 'मन के हारे हार है, मन के जीते जीत' जैसी पुस्तकों के प्रति लोगों में विशेष रुचि थी। सर्वश्री टीनू असोरिया, शिवराम वर्मा, शिवनारायण सक्सेना, सरदार निगवाल, रनजीत डाबर, जयंतीलाल वाणी, प्रखर राठौड़, रामप्रसाद भयडीया, रामसिंह चौहान, मुकाम सिंह आदि ने बड़ी श्रद्धा और मनोयोग से यह अभियान चलाया।


Write Your Comments Here:


img

11 जनवरी, देहरादून। उत्तराखंड ।

दिनांक 11 जनवरी 2020 की तारीख में देव संस्कृति विश्वविद्यालय शांतिकुंज हरिद्वार के प्रतिकुलपति आदरणीय डॉक्टर चिन्मय पंड्या जी देहरादून स्थित ओएनजीसी ऑडिटोरियम में उत्तराखंड यंग लीडर्स कॉन्क्लेव 2020 कार्यक्रम में देहरादून पहुंचे जहां पर उन्होंने उत्तराखंड राज्य के विभिन्न.....

img

ज्ञानदीक्षा समारोह में लिथुआनिया सहित देश के 12 राज्यों के नवप्रवेशी विद्यार्थी हुए दीक्षित

देवसंस्कृति विश्वविद्यालय के कुलाधिपति डॉ प्रणव पण्ड्या ने कहा कि जो आचरण से शिक्षा दें वही आचार्य है और ऐसे आचार्यगण ही विद्यार्थियों को चरित्रवान बना सकते हैं। डॉ. पण्ड्या ने कहा कि जिस तरह चाणक्य ने अपने ज्ञान व.....

img

ञानदीक्षा समारोह में लिथुआनिया सहित देश के 12 राज्यों के नवप्रवेशी विद्यार्थी हुए दीक्षित

देवसंस्कृति विश्वविद्यालय के कुलाधिपति डॉ प्रणव पण्ड्या ने कहा कि जो आचरण से शिक्षा दें वही आचार्य है और ऐसे आचार्यगण ही विद्यार्थियों को चरित्रवान बना सकते हैं। डॉ. पण्ड्या ने कहा कि जिस तरह चाणक्य ने अपने ज्ञान व.....