Published on 2018-02-19

  • युगऋषि के श्रीचरणों में समर्पित हुई देश, संस्कृति के लिए तड़पती जवानी
  • १०,००० लोगों की भागीदारी हर प्रांत के लोगों की भागीदारी
  • अमेरिका, कनाडा, इंग्लैण्ड, नेपाल के युवा भी आये
नागपुर। महाराष्ट्र
युवा क्रांति वर्ष २०१६- १७ युग निर्माण आन्दोलन के इतिहास का एक स्वर्णिम अध्याय था। दो वर्षों में लाखों युवा इस आन्दोलन से जुड़े। सुनियोजित सक्रियता के प्रभाव से समाज के सजग प्रहरियों की एक नई खेप राष्ट्र को समर्पित हुई। ऋषिचेतना ने उनमें वर्तमान युग की आपाधापी के प्रवाह में बहने की बजाय सार्थक जीवन जीने की हूक जगायी। जाग्रत तरुणाई ने मिशन के विविध रचनात्मक आन्दोलनों को अभूतपूर्व गति दी। अलग- अलग क्षेत्रों में वृक्षारोपण, आदर्श ग्राम विकास योजना, बाल संस्कार शाला, स्वच्छता अभियान, नशा- कुरीति उन्मूलन, साधना, सामूहिक यज्ञ योजना आदि के क्षेत्र में ऐसे- ऐसे आदर्श प्रस्तुत हुए हैं जो सारे समाज को दिशा- प्रेरणा दे सकते हैं।

नागपुर में २५ से २८ जनवरी २०१८ की तारीखों में आयोजित 'युग सृजेता' नवसृजन युवा संकल्प समारोह मिशन के इसी स्वर्णिम अध्याय का शानदार समापन समारोह था। पूरे देश में दो वर्षीय युवा सक्रियता और उसकी उपलब्धियों के दिग्दर्शन इस समारोह में हुए। यह एक अंतर्राष्ट्रीय समारोह बन गया, जिसमें भारत के सभी राज्यों के अलावा अमेरिका, कनाडा, इंग्लैण्ड, नेपाल आदि कई देशों के युवक, युवतियों ने भाग लिया। हर क्षेत्र के चुने हुए अग्रदूतों को ही इसमें आमंत्रित किया गया। लगभग १०,००० लोगों ने भाग लिया। प्रत्येक जिले के १० युवाओं के साथ जोन, उपजोन एवं जिला समन्वयक, भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा प्रभारी एवं जिले के प्रमुख ट्रस्टीगण भी इस ऐतिहासिक समारोह में सम्मिलित हुए।

यह आम सभा नहीं, एक विशिष्ट कार्यशाला थी। प्रत्येक आन्दोलन के आदर्श स्वरूप को जीवंत मॉडलों के माध्यम से देखने का अवसर मिला। विभिन्न प्रान्तों द्वारा गीत- संगीत कार्यक्रमों से युवा सोच को नई दिशाएँ मिलीं। पूरा कार्यक्रम ही अपने आप में एक प्रशिक्षण था, जिसमें श्रद्धा, संवेदना, समर्पण, अनुशासन, प्रबंधन कला, श्रम- साधना के एक से एक बढ़कर आदर्श नैष्ठिक कार्यकर्त्ताओं ने प्रस्तुत किये। युवा चिंतन से उभरे अभिनव प्रयोगों से सम्पन्न यह कार्यक्रम अभूतपूर्व था।

तीन दिवसीय कार्यक्रम में सक्रियता के उत्कृष्ट आदर्श और शांतिकुंज के वरिष्ठ प्रतिनिधियों की प्रखर प्रेरणाओं ने मिशन के प्रत्येक अग्रदूत में नवउत्साह का संचार किया। 'यूथ विजन २०२६' की इससे श्रेष्ठ प्रभावशाली प्रस्तुति और क्या हो सकती थी? दो वर्ष की सक्रियता से जाग्रत युवाशक्ति और मिशन की संगठित ऊर्जा से युग निर्माण आन्दोलन को उसके लक्ष्य तक पहुँचाने के चरणबद्ध सूत्रों पर विस्तार से चर्चा हुई, संकल्प कराये गये। युग सृजेता नवसृजन युवा संकल्प समारोह पूरे देश में मिशनरी सक्रियता को नई दिशा, नवगति देने वाला सिद्ध होगा, ऐसी आशा है।


Write Your Comments Here:


img

anganwadi स्कूल मैं जाके गायत्री मंत्र और गायत्री माँ के चम्त्कार् के बारे मैं बताया

मैं यशवीन् मैंने आज राजस्थान के barmer के बालोतरा मैं anganwadi स्कूल मैं जाके गायत्री माँ के बारे मैं बच्चों को जागरूक किया और वेद माता के कुछ बातें बताई और महा मंत्र गायत्री का जाप कराया जिसे आने वाले.....

img

युग निर्माण हेतु भावी पीढ़ी में सुसंस्कारों की आवश्यकता जिसकी आधारशिला है भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा -शांतिकुंज प्रतिनिधि आ.रामयश तिवारी जी

वाराणसी व मऊ उपजोन की *संगोष्ठी गायत्री शक्तिपीठ,लंका,वाराणसी के पावन प्रांगण में संपन्न* हुई।जहां ज्ञान गंगा की गंगोत्री,*महाकाल का घोंसला,मानव गढ़ने की टकसाल एवं हम सभी के प्राण का केंद्र अखिल विश्व गायत्री परिवार शांतिकुंज,हरिद्वार* से पधारे युगऋषि के अग्रज.....

img

Yoga Day celebration

Yoga day celebration in Dharampur taluka district ValsadGaytri pariwar Dharampur.....