देसंविवि में कुलपताका फहराने के साथ उत्सव- १८ का हुआ शुभारंभ

Published on 2018-02-26

उमंग से भर दे यह उत्सव : डॉ. पण्ड्याजी
प्रथम दिन क्रिकेट, दौड़, खो- खो सहित विभिन्न खेल का हुआ आयोजन

हरिद्वार २६ फरवरी।
देवसंस्कृति विश्वविद्यालय में खेलकूद व सांस्कृतिक प्रतियोगिता के माध्यम से विद्यार्थियों में क्षमता एवं प्रतिभा को नई पहचान देने और सम्मानित के करने के उद्देश्य उत्सव- २०१८ का आरएण्डडी मैदान में आगाज हुआ। इस अवसर पर विवि के कुलाधिपति श्रद्धेय डॉ. प्रणव पण्ड्याजी ने विवि के ध्वजारोहण के साथ खेल के नियमों का पालन करने की प्रतिज्ञा दिलवाई।

उत्सव- २०१८ के प्रथम दिन क्रिकेट, खो- खो, मेंहदी प्रतियोगिता, ८००मीटर दौड़, बास्केटबाल, टेबल टेनिस सहित विभिन्न प्रकार के खेलों का आयोजन हुआ। इसमें विद्यार्थियों ने उत्साह एवं उमंग के साथ भागीदारी की। राष्ट्रीय स्तर पर कुश्ती में कई पदक जीत चुके हर्षवर्धन व कु. प्राची ने मशाल लेकर खेल मैदान की परिक्रमा की, जिसका छात्र- छात्राओं ने तालियों के गडगड़ाहट के साथ स्वागत किया।

शुभारंभ के अवसर पर कुलाधिपति श्रद्धेय डॉ. प्रणव पण्ड्याजी ने कहा कि होली पर्व से पूर्व मनाये जाने वाला यह उत्सव- १८ हम सभी में उत्साह व उमंग भर दे। जिससे आने वाले समय व परीक्षा में अभीष्ट सफलता प्राप्त कर सकें। उन्होंने कहा कि खेलकूद व सांस्कृतिक कार्यक्रम को सौहार्द्र पूर्ण वातावरण में मनाने से एक दूसरे के प्रति आत्मीयता का भाव उत्पन्न होता है, जो पारिवारिकता के लिए सर्वोपरि है। कुलाधिपति ने उत्सव के दौरान होने वाले खेलों में भागीदारी करने एवं अपने सहपाठी भाई- बहिनों को प्रोत्साहित करने के लिए प्रेरित किया।

खेल अधिकारी श्री नरेन्द्र सिंह के अनुसार देसंविवि के १६वें वार्षिकोत्सव उत्सव- २०१८ के प्रथम सत्र में हुए क्रिकेट मैच कुलाधिपति एकादश व विद्यार्थी एकादश के बीच हुआ। टॉस जीतकर कुलाधिपति एकादश ने निर्धारित १६ ओवर में ८ विकेट खोकर १५४ रन बनाये। जवाब में विद्यार्थी एकादश १० ओवर में ७६ रन में आल आइट हो गयी। छात्रा वर्ग के क्रिकेट में बीएसएसी ने बीए की टीम को हराया। ८०० मीटर दौड़ के छात्रा वर्ग में हेमलता ने प्रथम तथा सुमेधा ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया। पुरुष वर्ग में आयान सिंह ने रामरण गुप्ता से बाजी मारी। छात्रा वर्ग के खो- खो में बीएससी की टीम विजयी रही। छात्र वर्ग के बॉस्केटबॉल में बीएससी की टीम ने बीसीए की टीम को हराया। छात्र वर्ग के टेबल टेनिस में प्रशांत गौतम ने पहला तथा पुरु शर्मा ने दूसरा स्थान प्राप्त किया।

उद्घाटन सत्र के दौरान श्री विनोद भाई ने अपने ड्रोन कैमरे से एक- एक पल को कैद किया। इस अवसर पर कुलपति श्री शरद पारधी, प्रतिकुलपति डॉ. चिन्मय पण्ड्याजी, कुलसचिव श्री संदीप कुमार सहित विवि परिवार, शांतिकुंज व ब्रह्मवर्चस शोध संस्थान के अंतेवासी कार्यकर्त्ता गण मौजूद रहे।


Write Your Comments Here:


img

देसंविवि में हुई राज्य के शिक्षाविदों की शैक्षिक उन्नयन विचार संगोष्ठी

शिक्षा के स्तर को ऊँचा उठाने हेतु करें उपाय ः धनसिंह रावतसंस्कारित व्यक्ति से ही समाज व राष्ट्र उठता है ऊँचा ः डॉ. चिन्मय पण्ड्याराज्य के विवि के कुलपतियों व समस्त कॉलेजों के प्रधानाचार्य हुए सम्मिलितहरिद्वार १७ जून।राज्य के समस्त.....

img

राजस्थान राज्य के ग्रामीण रोवर रेंजर्स ने सीखे व्यक्तित्व विकास के गुर

हरिद्वार १४ जून।भारत स्काउट गाइड के रोवर-रेंजर्स विंग के सौ वर्ष पूरे होने पर राजस्थान राज्य के सत्तर से अधिक ग्रामीण रोवर-रेंजर्स अपने हाइकिंग के अंतर्गत गायत्री तीर्थ शांतिकुंज पहुँचे। यहाँ उन्होंने व्यक्तित्व विकास के साथ स्काउटिंग के विभिन्न पहलुओं.....

img

शांतिकुंज में बनी छ.ग, म.प्र व ओडिशा के वनवासी क्षेत्रों के विकास की कार्ययोजना

गायत्री परिवार का मूल उद्देश्य है आत्मीयता विस्तार: डॉ. पण्ड्याजीहरिद्वार ११ जून।अखिल विश्व गायत्री परिवार प्रमुख डॉ. प्रणव पण्ड्याजी ने कहा कि गायत्री परिवार का मूल उद्देश्य आत्मीयता का विस्तार करना है। भगवान् राम ने रीछ वानरों के साथ, श्रीकृष्ण.....