संयुक्त राष्ट्र संघ (यूएन) के विशेष सम्मेलन में डॉ. चिन्मय पण्ड्याजी ने भाग लिया

Published on 2018-03-07

अखिल विश्व गायत्री परिवार और देव संस्कृति विश्वविद्यालय संयुक्त राष्ट्र संघ के विश्व शांति संस्थापक संस्थानों के समूह के सदस्य बने

पाकिस्तानी शिष्ट मण्डल अभिभूत हो गया
संयुक्त राष्ट्र संघ के यूरोपीय मुख्यालय में आयोजित इस संगोष्ठी में गायत्री परिवार के प्रतिनिधि की पाकिस्तान से आए शिष्टमंडल से भी वार्ता हुई, जिसकी अध्यक्षता डॉ. इलियास एवं डॉ. बेग कर रहे थे। परम पूज्य गुरुदेव द्वारा दिए गए जीवन दर्शन, मानवतापरक चिंतन एवं लोकोत्थान की अभिकल्पना से परिचित होने पर वे भाव विह्वल हो उठे एवं निवेदन किया कि यदि गायत्री परिवार भविष्य में भी पाकिस्तान में कोई कार्यक्रम आयोजित करना चाहेगा तो उसको सफल बनाने में उनके हजारों स्वयं सेवक सतत प्रयत्नशील रहेंगे। इस आमंत्रण से ऐसा अनुभव होता है जैसे परम पूज्य गुरुदेव एवं परम वंदनीया माताजी की दिव्य युगान्तकारी चेतना सृष्टि के समस्त आयामों को शनै:- शनै: अपनी आभा से आच्छादित करती जा रही है और वह दिन दूर नहीं जब विश्व के प्रत्येक मंच पर उनकी ही आवाज़ सुनाई पड़ेगी।

सम्मेलन में विश्व के १५० देशों के प्रतिनिधि शामिल हुए
अखिल विश्व गायत्री परिवार के प्रतिनिधि डॉ. चिन्मय पण्ड्याजी ने १४ एवं १५ फरवरी को विएना स्थित संयुक्त राष्ट्र संघ (यूएन) के विशेष सम्मेलन में भाग लिया। वे १३ फरवरी से आरंभ हुए तीन दिवसीय सम्मेलन में यूएन की स्टीयरिंग कमेटी की अनुवर्ती योजनाओं में सुझाव एवं सहयोग प्रदान के लिए संयुक्त राष्ट्र महासचिव के अधीनस्थ श्री एडम डिएंग द्वारा आमंत्रित थे।

डॉ. चिन्मयजी का यह प्रवास युग निर्माण योजना के क्रियान्वयन और देव संस्कृति के वैश्विक विस्तार की दृष्टि से विशेष उपलब्धिों से पूर्ण था। उक्त संगोष्ठी में गायत्री परिवार के प्रतिनिधि ने परम पूज्य गुरुदेव द्वारा प्रदत्त एकता, समता, शुचिता एवं ममता के सूत्र से समस्त सदस्यों को परिचित कराया। पूज्य गुरुदेव के व्यक्तित्व, कृतित्व, दर्शन एवं संदेश को जानकर वहाँ उपस्थित प्रतिनिधि मण्डल अभिभूत हुए बिना न रह सका और उन्होंने गायत्री परिवार का नाम इस सूची में सम्मिलित करने का निर्णय किया, जिसमें प्रमुख सदस्य संस्थाओं के नाम सम्मिलित किए गए हैं।

img

पर्यावरण संरक्षण के लिए हुई प्रशंसनीय पहल

एक डॉक्यूमेण्ट्री ने बदल दी लोगों की आदतयूनाइटेड किंगडमवर्षों बाद लंदन की कई कॉलोनियों में पहले की तरह सुबह- सुबह दूध की डिलीवरी करने वाले दिखने लगे हैं। अब लोग प्लास्टिक की बोतलों में नहीं, काँच की बोतलों में दूध.....

img

डलास, अमेरिका में हुआ १०८ कुण्डीय गायत्री महायज्ञ

वैश्विक चुनौतियों का सामना करने के लिए संघबद्ध आध्यात्मिक पुरुषार्थ का आह्वान १५ अप्रैल को हिन्दू मंदिर सोसाइटी, डलास में १०८ कुण्डीय महायज्ञ सम्पन्न हुआ। गायत्री परिवार के सदस्यों सहित डलास और आसपास के नगरों से आये सैकड़ों श्रद्धालुओं ने.....

img

पूर्वी अफ्रीका में शांतिकुंज की टोली का प्रवास

यूगांडा, तंजानिया और केन्या में १०८ कुण्डीय यज्ञ हुएशांतिकुंज प्रतिनिधि श्री शांतिलाल पटेल, श्री ओंकार पाटीदार एवं श्री बसंत यादव की टोली ८ मार्च से १६ अप्रैल तक यूगांडा, तंजानिया और केन्या के प्रवास पर थी। इस प्रवास में तीनों.....


Write Your Comments Here: