Published on 2018-03-08

प्रांतीय युवा संगठन द्वारा आयोजित विराट रैली
दिनांक : ८ अप्रैल २०१८
स्थान : रमाबाई मैदान, लखनऊ

भारत में गरीबी, भुखमरी, बीमारी, क्लेश, अशांति के अनेक कारण हैं, लेकिन शायद सबसे बड़ा कारण है नशा। नशा-दानव देश की जवानी को खोखला कर रहा है, लोगों की बुद्धि को हर रहा है, उन्हें भ्रष्ट बना रहा है। यों तो गायत्री परिवार ने पूरे देश में नशा विरोधी सशक्त अभियान चलाकर युवा पीढ़ी को भटकने से बचाने में अविस्मरणीय योगदान दिया है, लेकिन उत्तर प्रदेश ने वसंत पंचमी, २०१७ से 'नशामुक्त उत्तर प्रदेशज् का संकल्प लेते हुए जनजागरण का जो अभियान चलाया है, वह अद्वितीय है। इनका प्रभाव अपनी जगह हैं, लेकिन जब तक प्रशासन से सहयोग न मिले, नशीले पदार्थों की उपलब्धता बंद न हो, नशे के विरुद्ध दण्ड की व्यवस्था न बने तब तक अभियान की सफलता संदिग्ध ही रहती है।

गायत्री परिवार उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के रमाबाई मैदान पर ८ अप्रैल २०१८ (क्रांतिकारी शहीद मंगल पाण्डेय का बलिदान दिवस) को एक विराट रैली के साथ प्रशासन को जनभावनाओं से अवगत कराने जा रहा है। पिछले एक वर्ष में गायत्री परिवार ने उत्तर प्रदेश के सभी ७० जिलों में ६० लाख लोगों से प्रदेश को व्यसनमुक्त करने की माँग पर हस्ताक्षर कराये हैं। इस रैली में अखिल विश्व गायत्री परिवार के प्रमुख प्रतिनिधि श्रद्धेय डॉ. प्रणव पण्ड्या जी ये ६० हस्ताक्षरयुक्त ज्ञापन माननीय मुख्यमंत्री जी एवं माननीय राज्यपाल महोदय को सौंपेंगे। प्रदेश के सभी जिलों के १०,००० से अधिक कार्यकर्त्ता इस अवसर पर उपस्थित रहेंगे।
 
परिजनों से अपेक्षाएँ
  • अपने-अपने क्षेत्र में वर्कशॉप, नुक्कड़ नाटक, प्रदर्शनी, वीडियो फिल्म आदि के सहारे जनजागरण एवं हस्ताक्षर अभियान को गति दें।
  • अपने-अपने क्षेत्रों में समाचार पत्रों एवं अन्य मीडिया से च्नशामुक्त उत्तर प्रदेशज् अभियान को लोकप्रिय बनाने का प्रयास करें।
  • सभी जिलों के प्रतिनिधि अधिक से अधिक संख्या में ८ अप्रैल की प्रात: रैली में भाग लेने लखनऊ पहुँचें, अभियान को प्रभावशाली बनायें।

मुख्यमंत्री जी को सौपेंगे ज्ञापन
८ अप्रैल के कार्यक्रम
सभी जिले के परिजन अपने-अपने जिलों से नशामुुक्ति झाँकियों के साथ रैली के रूप में ७ अप्रैल की शाम तक लखनऊ पहुँचेंगे। ८ अप्रैल की प्रात: लखनऊ नगर में नगर के सभी उपजोनों के साथ एक रैली निकाली जाएगी। सायंकाल ४.३० बजे रमाबाई मैदान पर विशाल जनसभा होगी, जिसमें श्रद्धेय डॉ. प्रणव पण्ड्या जी के साथ माननीय राज्यपाल, माननीय मुख्यमंत्री जी के भाग लेने की संभावनाएँ हैं।

नशा नाश की जड़ है

  • विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार २०३० तक भारत में ४० लाख कैंसर के मरीज होंगे। इनमें से ६५ प्रतिशत कैंसर तम्बाकू, गुटखा, शराब आदि के नशे के कारण होता है।
  • छोटे-बड़े झगड़े, लूट, हत्या, बलात्कार जैसे अपराध नशे की अवस्था में ही अधिक होते हैं।
  • नशेड़ियों की विकृत मानसिकताओं द्वारा छेड़खानी के डर से लोग अपनी बेटियों को स्कूल नहीं भेजते।
  • सड़क दुर्घटनाओं का मुख्य कारण नशा है।
  • किसान एवं गरीब समझदारी अपनायें, नशे की राशि बचायें तो उनकी स्थिति बहुत कुछ सुधर सकती है।
  • पान/गुटखा का सेवन स्वच्छता के लिए अभिशाप हैं।


Write Your Comments Here:


img

Op

gaytri shatipith jobat m p.....

img

झुग्गी के बच्चों के नैतिक उत्थान के लिए हर मंगलवार को चलती है बाल संस्कारशाला

अहमदाबाद। गुजरात श्री विकास मिश्रा और उनके साथियों का युवा समूह झुग्गी- झोपड़ी में रहने वाले बच्चों के लाभार्थ ‘युगऋषि.....

img

झुग्गी के बच्चों के नैतिक उत्थान के लिए हर मंगलवार को चलती है बाल संस्कारशाला

अहमदाबाद। गुजरात श्री विकास मिश्रा और उनके साथियों का युवा समूह झुग्गी- झोपड़ी में रहने वाले बच्चों के लाभार्थ ‘युगऋषि.....