Published on 2018-03-09

श्रद्धा संवर्धन गायत्री महायज्ञ में आयोजित हुआ युवा सम्मेलन
बेमेतर। छत्तीसगढ़

१० फरवरी को बेमेतरा जिले के बदनारा एवं १४ फरवरी को थान खम्हरिया में २४ कुण्डीय यज्ञ सम्पन्न हुए। दिव्य भारत संघ छत्तीसगढ़ ने इनमें युवा सम्मेलन का आयोजन करते हुए प्रत्येक में हजारों युवाओं को अपना भविष्य भविष्य सँवारने और अपनी समस्याओं का समाधान स्वयं करने कि प्रेरणा दी।

दिया, छत्तीसगढ़ के संयोजक डॉ। पी. एल. साव तथा डॉ. योगेन्द्र कुमार ने देश के ५२ प्रतिशत युवाओं के नशे के चुंगल में फँसे होने पर गहरी चिंता व्यक्त की, उन्हें आध्यात्मिक जीवन जीते हुए आत्मबल, आत्मविश्वास बढ़ाने कि प्रेरणा दी। डॉ. साव ने खा कि अवसर की तलाश में भटकने वाला नहीं, सही मायनों में युवा वही है जो अपनी प्रतिभा से अपना भाग्य स्वयं सँवारता है।

स्वामी विवेकानन्द के सूत्र 'बी एण्ड मेक' की मार्मिक व्याख्या हुई। मिशन के सृजनात्मक आन्दोलनों की जानकारी देकर श्रोताओं को आत्म निर्माण एवं समाज निर्माण के संकल्प कराये गये। सुश्री तिलोत्तमा मुदली ने नारी शक्ति में परम्पराओ से उबरकर समाज निर्माण में सृजनात्मक योगदान देने की प्रेरणा दी

महाविधालय में दो दिवसीय कार्यशाला
अम्बिकापुर, सरगुजा। छत्तीसगढ़

गायत्री शक्तिपीठ अम्बिकापुर द्वारा संत हरकेवलदस बी. एड. महाविद्यालय में दो दिवसीय कार्यशाला आयोजित की गई। युवा प्रकोष्ठ प्रमुख प्रदीप शर्मा। लक्ष्मी सिंह, अमृता जायसवाल, शांति सिंह आदि ने परम पूज्य गुरूदेव के विचारों पर आधारित तनावमुक्त सहज जीवन जीने के लिए बहुविध मार्गदर्शन दिया। उन्होंने कहा कि शिक्षकों पर देश के भविष्य को सँवारने की जिम्मेदारी है, अत: आपको केवल पढ़ने और डिग्री प्राप्त करने के ही नहीं, बल्कि आध्यात्मिक जीवन शैली अपनाकर अपने विचार और संस्कारों के परिष्कार के भरपूर प्रयास भी करने चाहिए। विद्यार्थियों को युगऋषि पं। श्रीराम शर्मा आचार्य जी के क्रांतिकारी विचारों के निरंतर सान्निध्य में रहने के लिए प्रेरित किया गया।


Write Your Comments Here:


img

Meeting

Up Jon Gwalior ki meting.....

img

पुरस्कार वितरण समारोह

मुज़फ्फ़रनगर। उत्तर प्रदेश जिले का भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा पुरस्कार वितरण समारोह 11 अगस्त को नौ कुण्डीय गायत्री महायज्ञ के.....

img

चेतना केंद की जानकारी के लिए लगाए गए दिशा मार्ग

बोहोत कम लोगो को अमरावती चेतना केंद्र की जानकारी है । तथा लोगो तक चेतना केंद्र की जानकारी पोहचाए ने के लिए रोड पर चेतना केंद्र का प्रचार किया गया और रोड पर दिशा मार्ग लगाए गए जिससे लोगों को.....