Published on 2018-03-11
img

पंचकूला। हरियाणा
श्री गायत्री प्रज्ञा मण्डल रिहौड़ा ने २५ से २८ जनवरी तक स्थानीय परशुराम मंदिर में प्रज्ञा पुराण कथा एवं २४ कुण्डीय गायत्री यज्ञ का आयोजन किया। शांतिकुंज से पहुँची श्री विनय केसरी एवं श्री जमना साहू की टोली द्वारा प्रस्तुत गीत- संदेश लोगों के मन- मस्तिष्क पर छा गये। इनकी चर्चा जहाँ- जहाँ तक पहुँचती, अगले दिन बड़ी संख्या में वहाँ के लोग कार्यक्रम में भाग लेने पहुँचते थे। बरवाला, बतौड़, रिहौड़, टाबर, भरेली, समगोली, सगराणा, सुलतानपुर, जलौली, खटौली, बागवाली पंचकूला के हजारों लोगों ने यज्ञ- कथा का लाभ लिया।

शांतिकुंज प्रतिनिधियों ने पू. गुरुदेव के विचारों के प्रभाव से बदलते जनजीवन की चर्चा करते हुए श्रद्धालुओं को भावविभोर कर दिया। नशेबाजों का नशा छोड़ना, युवाओं का युग निर्माण आन्दोलन के लिए समर्पित होना, प्रतिष्ठित कम्पनियों की नौकरी छोड़ लोगों का समाजसेवा को अधिक महत्त्व देना जैसे दृष्टांतों ने श्रोताओं को भक्तिभाव से भर दिया।

श्री सन्दल सिंह राणा ने जिन गाँवों में गायत्री यज्ञों का आयोजन होगा उन गाँवों में स्वच्छता अभियान चलाने के लिए एक समिति बनाने और उसके माध्यम से लोगों को स्वच्छता के प्रति जागरूक करने की घोषणा की।


Write Your Comments Here:


img

11 जनवरी, देहरादून। उत्तराखंड ।

दिनांक 11 जनवरी 2020 की तारीख में देव संस्कृति विश्वविद्यालय शांतिकुंज हरिद्वार के प्रतिकुलपति आदरणीय डॉक्टर चिन्मय पंड्या जी देहरादून स्थित ओएनजीसी ऑडिटोरियम में उत्तराखंड यंग लीडर्स कॉन्क्लेव 2020 कार्यक्रम में देहरादून पहुंचे जहां पर उन्होंने उत्तराखंड राज्य के विभिन्न.....

img

ज्ञानदीक्षा समारोह में लिथुआनिया सहित देश के 12 राज्यों के नवप्रवेशी विद्यार्थी हुए दीक्षित

देवसंस्कृति विश्वविद्यालय के कुलाधिपति डॉ प्रणव पण्ड्या ने कहा कि जो आचरण से शिक्षा दें वही आचार्य है और ऐसे आचार्यगण ही विद्यार्थियों को चरित्रवान बना सकते हैं। डॉ. पण्ड्या ने कहा कि जिस तरह चाणक्य ने अपने ज्ञान व.....

img

ञानदीक्षा समारोह में लिथुआनिया सहित देश के 12 राज्यों के नवप्रवेशी विद्यार्थी हुए दीक्षित

देवसंस्कृति विश्वविद्यालय के कुलाधिपति डॉ प्रणव पण्ड्या ने कहा कि जो आचरण से शिक्षा दें वही आचार्य है और ऐसे आचार्यगण ही विद्यार्थियों को चरित्रवान बना सकते हैं। डॉ. पण्ड्या ने कहा कि जिस तरह चाणक्य ने अपने ज्ञान व.....