Published on 2018-03-28
img

केशुभाई गोटी,जिनका गरीबों के उत्थान के लिए धड़कता है दिल


गरीबों और किसानों की भलाई के लिए चर्चा और आन्दोलन होते तो खूब देखे- सुने जाते हैं, लेकिन ऐसे बिरले ही होते हैं जिनकी उनके साथ वाकई संवेदना होती है, वे उनकी सहायता करते हैं। बाकी तो सब राजनीतिक रोटियाँ ही सेकते नज़र आते हैं।

सूरत के हीरा व्यापारी श्री केशुभाई गोटी ऐसे ही नेक इंसानों में से एक हैं, जिनका दिल पिछड़ों और गरीबों के लिए  धड़कता है, धन उनके उत्थान के कार्यों में लगता है। वे दक्षिण गुजरात के डांग, वलसाड, नवसा२ी, व्यारा सेलेकर दाहोद तक के वनवासी छात्रों को पढ़ने की सुविधा प्रदान करने के लिए १०८ छात्रावासों का निर्माण करा रहे हैं।

श्री केशुभाई ने एक किताब में आदिवासी किसानों के बच्चों की समस्याएँ पढ़ीं। इस किताब ने उन्हें इतना आहत किया कि उन्होंने तत्काल उन बच्चों के लिए १०८ छात्रावास बनाने का संकल्प ले लिया। वे अब तक उन क्षेत्रों में २७ होस्टेल बनवा चुके हैं और ८१ होस्टेलों को बनवाने का काम जारी है। एक होस्टेल के निर्माण का खर्च २५ से ३० लाख रुपये है। इसका ५० प्रतिशत खर्च वे स्वयं देते हैं और ५० प्रतिशत दूसरों से इकट्ठा करते हैं।

श्री केशुभाई गोटी शांतिकुंज भी आए हैं। लोकमंगल के विभिन्न कार्यों को गति देने के संदर्भ में वे श्रद्धेय डॉ. साहब एवं श्रद्धेया जीजी से प्रेरणा, मार्गदर्शन, आशीर्वाद ले चुके हैं।


Write Your Comments Here:


img

dqsdqsd

sqsqdsqdqs.....

img

sqdqsdqsdqsd.....

img

Op

gaytri shatipith jobat m p.....