Published on 2018-03-16

एलन्दू गायत्री परिवार 16 मार्च 2018
रात्रि 7:00 बजे श्री सतीश खण्डेलवाल जी के घर पर एलन्दू गायत्री परिवार के परिजनों की सङ्गोष्ठी सम्पन्न हुई। सभी ने मिलकर एक स्वर में कार्यकर्त्ता प्रशिक्षण और संस्कार महोत्सव एवं 108 कुण्डीय गायत्री महायज्ञ करने का संकल्प लिया। एलन्दू से 40 किलोमीटर दूर भद्राचलम् जहाँ भगवान श्रीराम, सीता और लक्ष्मण ने गोदावरी नदी को पार किया था। और निजाम के समय भक्त रमुलु ने राजा के खजाने से मंदिर का निर्माण कार्य कराया था। मालूम पढ़ने पर निजाम ने जेल में डाल दिया था। तो स्वयं भगवान ने राजकोष के पैसे वापस किये थे। तब से प्रतिवर्ष राज्य सरकार अपने कोष से खर्च कर चैत्र राम नवमी के दिन आज तक भगवान श्रीराम और माता सीता का विवाह (कल्याणम्) कराते हैं। भद्राचलम् तेलंगाना राज्य का तीर्थ है।


Write Your Comments Here:


img

पुसंवन संस्कार

07/07/2020 mumbai- गुरु पूणिऀमा के पावन पर्व के दिन सौभाग्यवती वैदेही जी का पुसंवन संस्कार उलहास एवं श्रद्धा पूवऀक मनाया गया ] आआे गढें ‌संस्कार वान पीढी कायऀक्रम के अंतर्गत सौभाग्यवती उजवला जी का पुसंवन संस्कार श्रद्धा एवं.....

img

गुरु पूर्णिमा 2020

Guru Purnimaगुरु पूर्णिमा का पावन पर्व आज दिनांक 5 जुलाई 2020 दिन रविवार को स्थानीय गायत्री शक्तिपीठ पर उत्साहपूर्वक एवं शारीरिक दूरी [Physical.....