Published on 2018-04-03
img

अखिल विश्व गायत्री परिवार द्वारा जिला स्तरीय नशा मुक्ति रैली एवं हस्ताक्षर अभियान चलाया गया

कौशाम्बी: अखिल विश्व गायत्री परिवार उत्तर प्रदेश द्वारा प्रदेश को व्यसन मुक्त बनाने के संदर्भ में कौशाम्बी जिले में गायत्री परिजनों द्वारा नशा मुक्ति रैली का आयोजन किया गया और लोगों से हस्ताक्षर के माध्यम से यह संकल्प दिलाया गया कि अपने इस अमूल्य जीवन में कभी भी दुर्व्यसन को नहीं लाएंगे। रैली सिंधिया ग्राम में सुरेश चंद्र जी के निवास से संयोजित होकर प्रारम्भ हुई जिसमें बैनर, तख्तियां, श्लोगन, नशा मुक्ति गीत आदि के माध्यम से भरवारी नगर में भ्रमण करते हुए लोगों से हस्ताक्षर लिया गया। रैली में कौशाम्बी जिले के सभी गायत्री परिजन सम्मिलित हुए। रैली का संचालन करते हुए सुरेश जायसवाल जी ने बताया कि दुर्व्यसन वर्तमान समय में हमारे समाज की सबसे बड़ी समस्याओं में से एक है। नशे से आज हमारे समाज में अपराध, पारिवारिक कलह, रोगी काया, धन का अपव्यय, बीमारी, दुर्घटनाएं, दुष्कर्म, स्वच्छता में अवरोध आदि समस्याएं उभर कर सामने आ रहीं है। अतः इन समस्याओं के समाधान हेतु हमें इस नशा रूपी राक्षस का अंत कर देना चाहिए।

अखिल विश्व गायत्री परिवार, शांतिकुंज हरिद्वार द्वारा समाज व राष्ट्र के नैतिक, संस्कृतिक, आध्यात्मिक पुनरुत्थान हेतु व्यसन मुक्ति आंदोलन के अंतर्गत नशामुक्त उत्तर प्रदेश बनाने का संकल्प लेकर इसकी सफलता हेतु व्यापक जन जागरण के साथ संकल्प हस्ताक्षर अभियान व नशे से होने वाली हानियों और इससे बचने के उपायों जैसे विषयों पर विशेषज्ञों द्वारा मार्गदर्शन, पुस्तिका एवं पत्रकों का वितरण, सभा, संगोष्ठियों, रैलियों व कार्यशालाओं आदि के माध्यम से आम जन को नशामुक्त बनाने व इससे दूर रहने के संकल्प कराने आदि का प्रयास पूरे प्रदेश में तेजी से चल रहा है।

इसे और अधिक प्रभावी एवं जनव्यापी बनाने हेतु प्रान्तीय स्तर का एक विराट नशा मुक्त संकल्प समारोह का आयोजन प्रदेश की राजधानी *लखनऊ के रमाबाई रैली मैदान* में आगामी *दिनाँक ८ अप्रैल २०१८* को किया जा रहा है, जिसमें विशेष मार्गदर्शन देने हेतु श्रध्देय डॉ प्रणव पाण्ड्या जी का आगमन प्रदेश के मुख्यमंत्री एवं राज्यपाल जी के साथ होगा।


Write Your Comments Here:


img

11 जनवरी, देहरादून। उत्तराखंड ।

दिनांक 11 जनवरी 2020 की तारीख में देव संस्कृति विश्वविद्यालय शांतिकुंज हरिद्वार के प्रतिकुलपति आदरणीय डॉक्टर चिन्मय पंड्या जी देहरादून स्थित ओएनजीसी ऑडिटोरियम में उत्तराखंड यंग लीडर्स कॉन्क्लेव 2020 कार्यक्रम में देहरादून पहुंचे जहां पर उन्होंने उत्तराखंड राज्य के विभिन्न.....

img

ज्ञानदीक्षा समारोह में लिथुआनिया सहित देश के 12 राज्यों के नवप्रवेशी विद्यार्थी हुए दीक्षित

देवसंस्कृति विश्वविद्यालय के कुलाधिपति डॉ प्रणव पण्ड्या ने कहा कि जो आचरण से शिक्षा दें वही आचार्य है और ऐसे आचार्यगण ही विद्यार्थियों को चरित्रवान बना सकते हैं। डॉ. पण्ड्या ने कहा कि जिस तरह चाणक्य ने अपने ज्ञान व.....

img

ञानदीक्षा समारोह में लिथुआनिया सहित देश के 12 राज्यों के नवप्रवेशी विद्यार्थी हुए दीक्षित

देवसंस्कृति विश्वविद्यालय के कुलाधिपति डॉ प्रणव पण्ड्या ने कहा कि जो आचरण से शिक्षा दें वही आचार्य है और ऐसे आचार्यगण ही विद्यार्थियों को चरित्रवान बना सकते हैं। डॉ. पण्ड्या ने कहा कि जिस तरह चाणक्य ने अपने ज्ञान व.....