Published on 2018-04-02
img

प्रथम चरण की पूर्णाहुति में प्रमुख सहयोगियों का सम्मान
२,५०,००० पुस्तिकाएँ नि:शुल्क बाँटकर करायी जा रही है मंत्रलेखन साधना

धामनोद, धार। मध्य प्रदेश

गायत्री शक्तिपीठ मनावर की श्रीमती पुष्पा खण्डेलवाल द्वारा अपने स्वर्गीय पति श्री रमेशचंद्र जी की स्मृति में चलाये जा रहे गायत्री महामंत्र लेखन अभियान के प्रथम चरण की पूर्णाहुति ११ मार्च को भव्य समारोह के साथ सम्पन्न हुई। इस अभियान के अंतर्गत मध्य प्रदेश की ४३ जेलों के बंदियों, गर्भवती बहनों तथा छात्र- छात्राओं को विशेष रूप से लाभान्वित किया गया है। फूडी रिसॉर्ट में आयोजित प्रथम चरण के पूर्णाहुति समारोह में अभियान में सहयोगी रहे विभिन्न जेल अधिकारियों और परिजनों को प्रशस्ति पत्र, सत्साहित्य एवं गायत्री मंत्र चादर भेंट कर सम्मानित किया गया।

इस समारोह में जोन प्रभारी श्री कैलाश नारायण गिरि, आदिवासी संत श्री डेमनिया बाबा सालीटांडा, श्री महेश ठाकुरचंद्रपुर, श्री महेन्द्र भावसार अंजड़, श्री आरएस चौधरी भोपाल, श्री रमेश कुलमी इंदौर, श्री मोहन सिंह सिसौदिया धार मुख्य आमंत्रित अतिथि के रूप में उपस्थित रहे। प्रथम चरण में संग्रहीत ४५,००० मंत्र लिखित पुस्तिकाओं का दीपयज्ञ के साथ भावभरा पूजन किया गया। डीआईजी श्री अनिल शर्मा भोपाल, डॉ. सारिका शर्मा प्रथम श्रेणी न्यायाधीश धार, श्री रमेश आर्य अधीक्षक केन्द्रीय कारागार इन्दौर, श्री लवसिंह अधीक्षक जिला जेल खरगोन, श्री एस अलावे अलीराजपुर, पूर्व सांसद श्री रामेश्वर पाटीदार एवं कई अन्य अधिकारियों ने ९ देव कन्याओं के साथ पूजन में भागीदारी की।

मंत्र लेखन अभियान का प्रथम चरण विगत गायत्री जयंती से आरंभ हुआ। पिछले ९ माह में ४५००० पुस्तिकाएँ लिखी गर्इं। प्रथम पूर्णाहुति के अवसर पर श्रीमती पुष्पा बहन ने अपना २,५०,००० मंत्र लेखन पुस्तिकाएँ नि:शुल्क बाँटने का संकल्प दोहराया।


Write Your Comments Here:


img

गुण, कर्म, स्वभाव का परिष्कार करने वाली विद्या को प्रोत्साहन मिले। श्रद्धेय डॉ. प्रणव जी

देव संस्कृति विश्वविद्यालय का 35वाँ ज्ञानदीक्षा समारोह 21 जुलाई 2019 को कुलाधिपति श्रद्धेय डॉ. प्रणव पण्ड्या जी की अध्यक्षता में.....

img

शिक्षण संस्थानों में परिचय के नाम पर उत्पीड़न नहीं, विद्यारंभ संस्कार होना चाहिए

देव संस्कृति विश्वविद्यालय के 35वें ज्ञानदीक्षा समारोह में केन्द्रीय मानव संसाधन मंत्री का संदेश   यह ज्ञानदीक्षा समारोह जीवन के.....