नवरात्र की नौ देवियों की प्रतिनिधि बनीं युवतियाँ

Published on 2018-04-11
img


पूरे आई.टी. क्षेत्र को गायत्रीमय और राममय कर दिया
बैंगलोर। कर्नाटक
गायत्री चेतना केन्द्र बैंगलोर के संचालक नवयुवकों ने नवरात्र साधना की पूर्णाहुति-रामनवमी के दिन एक विशिष्ट प्रयोग करते हुए पूरे आई.टी. क्षेत्र को गायत्रीमय एवं राममय करने का सफल प्रयास किया। इसके अंतर्गत गायत्री चेतना केन्द्र पर 9 कुण्डीय यज्ञ हुआ। यज्ञ में लगभग 500 युवक-युवतियों और नैष्ठिक परिजनों ने भाग लिया।
विशेष प्रयोग के रूप में यज्ञ का संचालन नवदुर्गा की प्रतीक नौ बहनों ने किया। गायत्री रानी, रीता रजक, प्रीती सेन, अर्पिता कटरे, युक्ता, गायत्री गोयल, सायुज्जता बड़गोती, नीलम राजपूत एवं मनीषा सिंह ने क्रमश: प्रथम से नवम दिन के नवदुर्गा के नौ रूपों की व्याख्या की। उनके ध्यान एवं पूजन की विधियाँ बतायीं एवं उनके माध्यम से जीवन में श्रेष्ठता का संचार करने की प्रेरणाएँ दी। अर्पिता कटरे ने रामनवमी का महत्त्व भी समझाया।

img

पूर्वोत्तर युग निर्माता युवा सम्मेलन

गुवाहाटी। असमगायत्री चेतना केन्द्र बेहारबाड़ी, गुवाहाटी पर दिनांक १०, ११ मार्च को पूर्वोत्तर युग निर्माता युवा सम्मेलन सम्पन्न हुआ। मुख्य वक्ता युवा प्रकोष्ठ प्रभारी शांतिकुंज प्रतिनिधि श्री केदार प्रसाद दुबे एवं पूर्वोत्तर जोन प्रभारी श्री परमानंद द्विवेदी ने सभी सातों.....

img

गायत्री परिवार के करोड़ों लोगों के चरित्र बल से नशामुक्त होगा उत्तर प्रदेश

लखनऊ में आयोजित नशामुक्ति रैली में बोले योगी आदित्यनाथ जन सहभागिता ही है संकल्प सिद्धि का मंत्र एक करोड़ हस्ताक्षर ज्ञापन सौपा लखनऊ। उत्तर प्रदेशअमर शहीद मंगल पाण्डेय के बलिदान दिवस- ८ अप्रैल २०१८ को अखिल विश्व गायत्री परिवार के प्रादेशिक.....

img

प्रेम और करुणा के सागर हैं परम पूज्य गुरुदेव - डॉ. चिन्मय पण्ड्याजी

मुजफ़्फ़रनगर के १०८ कुण्डीय यज्ञ में परम पूज्य गुरुदेव की शिक्षाओं के अनुसरण की प्रेरणा दी।मुजफ्फर नगर। उत्तर प्रदेशमहर्षि अगस्त ने जैसे दो अंजलि में पूरा सागर भर लिया था, वैसे ही परम पूज्य गुरुदेव के व्यक्तित्व को यदि दो.....