शांतिकुंज आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा आयोजित सर्वे टीम का पाँच दिवसीय प्रशिक्षण शिविर शनिवार को संपन्न हो गया। ये टीमें उत्तराखण्ड के ९ जिलों के गाँव-गाँव जाकर सर्वे करेगी और अपनी रिपोर्ट शांतिकुंज को सौंपेगी।  उसी आधार पर उक्त गांवों में योजनाबद्ध तरीके से उनके पुनर्निर्माण एवं पुनर्वास का कार्य किया जाएगा।
    आपदा प्रबंधन विभाग अनुसार के अखिल विश्व गायत्री परिवार के प्रमुख डॉ. प्रणव पण्ड्या व संस्था की अधिष्ठात्री शैल दीदी के देखरेख में एक उच्च स्तरीय समिति का गठन किया है, जिसने सर्वे टीम को प्रशिक्षित  किया। टीम के सदस्यों को बाढ़ से हुए नुकसान आदि का ऑकलन करने की विधा से अवगत कराया गया। टीमों को उनकी जिम्मेदारियों से भी अवगत करा दिया गया  है। इस सर्वे टीम में इंजीनियर, सर्वेयर सहित अनुभवी एवं तकनीकी स्वयंसेवकों को शामिल किया गया है।
    डॉ. पण्ड्या ने बताया कि अब तक शांतिकुंज से १,५०,००० रुपये से अधिक मूल्य की दवाइयां, १,२५,००० भोजन पैकैट एवं करीब एक हजार रुपये की लागत वाले सैकड़ों की संख्या में ‘किचन-किट’ आदि पीड़ितों तक पहुँचाया जा चुका है। उन्होंने बताया कि पीड़ितों की हरसंभव सहायता के लिए आपदा प्रबंधन से प्रशिक्षित टोली ९ जिलों में शीघ्र ही भेजी जा रही है, जो गाँव-गाँव जाकर बाढ़ से हुए नुकसान का ऑकलन करेगी। उन्होंने बताया कि सर्वे के इस क्रम में सरकारी तंत्र ने भी सहयोग का आश्वासन दिया है।





Write Your Comments Here:


img

गृह मंत्री अमित शाह बोले- वर्तमान एजुकेशन सिस्टम हमें बौद्धिक विकास दे सकता है, पर आध्यात्मिक शांति नहीं दे सकता

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि हम उन गतिविधियों का समर्थन करते हैं जो हमारे देश की संस्कृति और सनातन धर्म को प्रोत्साहित करती हैं। पिछले 50 वर्षों की अवधि में, हम हम सुधारेंगे तो युग बदलेगा वाक्य.....

img

शान्तिकुञ्ज में 75वाँ स्वतंत्रता दिवस उत्साहपूर्वक मनाया गया

प्रसिद्ध आध्यात्मिक संस्थान गायत्री तीर्थ शांतिकुंज, देव संस्कृति विश्वविद्यालय एवं गायत्री विद्यापीठ में 75वाँ स्वतंत्रता दिवस उत्साह पूर्वक मनाया गया। शांतिकुंज में गायत्री परिवार प्रमुख एवं  देव संस्कृति विश्वविद्यालय के कुलाधिपति  श्रद्धेय डॉक्टर प्रणव पंड्या जी तथा संस्था की अधिष्ठात्री.....