शिवभक्तों की आस्था को मिली नई दिशाएँ

Published on 2018-04-11
img

मुम्बई। महाराष्ट्र

दिया, मुम्बई ने अपने ‘प्रोजेक्ट दृष्टिकोण’ के अंतर्गत महाशिवरात्रि पर्व को प्रासंगिक बनाने और लोकश्रद्धा को सही दिशा देने के लिए अम्बरनाथ और बदलापुर के शिव मंदिरों पर पुस्तक प्रदर्शनियाँ लगायीं। समर्पित कार्यकर्त्ताओं को इनके माध्यम से संवाद और संपर्क का शानदार अवसर मिला। हजारों लोगों को गायत्री उपासना से जीवन सँवारने तथा तरह-तरह के व्यक्तिगत एवं सामाजिक दोष-दुर्गुणों को दूर करने के लिए संघबद्ध होने की प्रेरणा दी जा सकी।

अंबरनाथ की जीवट वाले युवा राजेश शेट्टी, शुचिता शेट्टी, श्रीमती अम्मानी शेट्टी, जगन्नाथ शेट्टी की टोली पिछले चार वर्षों से शिव मंदिर रोड़, स्वामी समर्थ चौक पर पुस्तक मेले लगा रही है। इस वर्ष अनेक संगठन-संस्थानों में अपने पुस्तकालयों को युगऋषि के ज्ञान एवं आशीर्वाद से समृद्ध करने का जोरदार उत्साह दिखाई दिया। अपने जीवन को सन्मार्ग की ओर बढ़ाने के आकांक्षी नये विचारशील लोग बुक स्टॉल की ओर आकर्षित होते रहे।

बदलापुर के शिव मंदिर पर वर्षों से पुस्तक स्टॉल लगाने वाले  श्री प्रदीप मिश्रा ने इस वर्ष भी श्रीमती जयश्री शिम्पी, अमित पाण्डेय, उमेश मिश्रा, संदीप मिश्रा के सहयोग से पुस्तक स्टॉल लगाया। प्रात: 5 बजे से रात 10 बजे तक लोगों की भीड़ बनी रही। हजारों लोगों तक ऋषि चिंतन पहुँचाने में सफलता मिली।


Write Your Comments Here:


img

यज्ञ-संस्कार से शिविर का शुभारंभ

रेवाड़ी स्थित ललिता मेमोरियल हॉस्पिटल में रक्तदान शिविर का शुभारंभ गायत्री यज्ञ के साथ कीया गया, साथ ही यज्ञ के दौरान गर्भ-संस्कार का विवेचन भी कीया गया। यज्ञ-संस्कार श्रीमती अनामिका पाठक द्वारा संपन्न कराया गया तथा कार्यक्रम में शहर.....

img

कलेक्टरेट आदि प्रशासनिक कार्यालयों में लगाये जा रहे हैं सद्वाक्य

तुलसीपुर, बलरामपुर। उ.प्र.गायत्री शक्तिपीठ तुलसीपुर के वरिष्ठ परिजन श्री सत्यप्रकाश शुक्ल एवं साथियों ने जिला कलेक्ट्रेट, एसडीएम, सीओ, तहसीलदार आदि वरिष्ठ अधिकारियों के कार्यालयों में जाकर युगऋषि के अनमोल वचन लिखे सनबोर्ड भेंट किये। इन्हें पाकर सभी गद्गद थे। जिलाधिकारी.....

img

बाल संस्कार शाला शुभारंभ

गोंदिया जिले के तिरोड़ा तहसील के ग्राम मालपुरी में बाल संस्कार शाला का शुभारंभ कराया गया। ग्राम के सम्मानीय परिजन तथा बालको के माता-पिता के सहयोग से संस्कार शाला को सतत चलाते रहने का संकल्प लिया गया।.....