Published on 2018-04-19

गंगा सप्तमी (२२ अप्रैल) को अखिल विश्व गायत्री परिवार, शांतिकुंज के नेतृत्व में गोमुख से गंगासागर तक के पाँच सौ से अधिक प्रमुख घाटों में सफाई अभियान चलायेगा। इस अभियान में गायत्री परिवार के साथ विभिन्न सामाजिक, सरकारी व गैर सरकारी संगठन भागीदारी निभायेंगे।

  • माँ गंगा की निर्मलता का सबसे बड़ा अभियान निर्मल गंगा जन अभियान के अंतर्गत समग्र स्वच्छता का तीसरा प्रयाज वर्ष |
  • पिछले वर्ष 2017 में 1000 घाटों पर स्वच्छता का कार्यक्रम संपन्न |
  • इस वर्ष भी 1500 से अधिक घाटों पर स्वच्छता का लक्ष्य |
बैनर इत्यादि प्रचार सामग्री निम्न लिंक से डाउनलोड करें.

https://drive.google.com/open?id=1uua0obgpxaLxynVE_jHKtGZE8Yv86Mlj">https://drive.google.com/open?id=1uua0obgpxaLxynVE_jHKtGZE8Yv86Mlj

http://diya.net.in/events_activities/events/2018/NGJA_2018

आप भागीदार बन सकते है यदि आप
  • · निर्मल गंगा जन अभियान के कार्यकर्ता · गंगा प्रज्ञा / सेवा मण्डलों के सदस्य ·
  • प्रज्ञा/महिला/युवा/संस्कृति मंडलों के सदस्य हो । · स्थानीय तीर्थ पुरोहित ·
  • शैक्षणिक, धार्मिक, सामाजिक संगठन · गंगा सेवा समिति के सदस्य · जन प्रतिनिधि ·
  • किसी गैर सरकारी संगठन के संचालक या सदस्य है । किसी सामाजिक संगठन के कार्यकर्ता है ।
  • · व्यवसायी है या नौकरी कर रहे है ।

संपर्क सूत्र -
9258360928,
9258360962

ईमेल - youthcell@awgp.in


Write Your Comments Here:


img

युग निर्माण हेतु भावी पीढ़ी में सुसंस्कारों की आवश्यकता जिसकी आधारशिला है भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा -शांतिकुंज प्रतिनिधि आ.रामयश तिवारी जी

वाराणसी व मऊ उपजोन की *संगोष्ठी गायत्री शक्तिपीठ,लंका,वाराणसी के पावन प्रांगण में संपन्न* हुई।जहां ज्ञान गंगा की गंगोत्री,*महाकाल का घोंसला,मानव गढ़ने की टकसाल एवं हम सभी के प्राण का केंद्र अखिल विश्व गायत्री परिवार शांतिकुंज,हरिद्वार* से पधारे युगऋषि के अग्रज.....

img

Yoga Day celebration

Yoga day celebration in Dharampur taluka district ValsadGaytri pariwar Dharampur.....

img

गर्भवती महिलाओं की हुई गोद भराई और पुंसवन संस्कार

*वाराणसी* । गर्भवती महिलाओं व भावी संतान को स्वस्थ व संस्कारवान बनाने के उद्देश्य से भारत विकास परिषद व *गायत्री शक्तिपीठ नगवां लंका वाराणसी* के सहयोग से पुंसवन संस्कार एवं गोद भराई कार्यक्रम संपन्न हुआ। बड़ी पियरी स्थित.....