Published on 2018-04-20
img

नियमित स्वच्छता अभियान का एक वर्ष

भलाई, दुर्ग। छत्तीसगढ़वायु और जल जीवन की दो मौलिक आवश्यकताएँ हैं। इन्हें हम बना तो नहीं सकते, लेकिन दूषित होने से बचा जरूर सकते हैं। जल और वायु शुद्ध रहेंगे, तभी हम स्वस्थ रहेंगे, जीवित रहेंगे।

अखिल विश्व गायत्री परिवार का उपजोन भिलाई और दिया (दीया) छत्तीसगढ़ इन्हीं भावों के साथ पिछले एक साल से हर रविवार को शहर के नदी, तालाब, मैदान, मुक्तिधाम इत्यादि में सफाई एवं वृक्षारोपण का कार्यक्रम चल रहा है। इन कार्यक्रमों के माध्यम से लोगों को अपनी आदतें बदलने और सामाजिक जिम्मेदारियों को समझने की प्रेरणा दे रहा है।

जल संरक्षण सप्ताह मनाया
२८ मार्च- जल संरक्षण सप्ताह के रिसाली (भिलाई) के कल्याणी मंदिर तालाब (बी़आऱपी. चौक) में इसी कड़ी का एक प्रभावशाली कार्यक्रम हुआ। सर्वश्री एस.पी. सिंह, धीरज लाल टांक, राम स्वरूप साहू, टीकम सिंह चंद्राकर, डॉ. पी एल साव, इंजी़ सौरभ कांत, इं. विनीता, श्रीमती उषा किरण, पृथ्वीपाल साहू, त्रिलोक साहू, वार्ड के पार्षद सहित ५० की भाई- बहनों ने इसमें भाग लिया। कड़े परिश्रम के साथ पॉलीथीन, शराब की बोतलें, गुड़ाखु के डिब्बे, साबुन, गुटखे के पाउच, सड़े फूल, मूर्तियाँ, पत्ते इत्यादि हटाये गये। घाट के आसपास जागरूकता परक सूचनाएँ लिखी गर्इं।

जतारा, टीकमगढ़। मध्य प्रदेश
विश्व जल संरक्षण दिवस पर जतारा शाखा ने ग्राम अलापुर वन्यक्षेत्र स्थित स्टॉपडेम जलाशय क्षेत्र की सफाई की। सर्वश्री जालम प्रसाद प्रजापत, महेश घोष, हरिओम चढ़ार, क्षेत्रीय वनपाल अश्विनी कुमार मिश्रा, वन संरक्षक एवं वन समिति के अनेक कर्मी, गायत्री परिवार के कार्यकर्त्ताओं ने स्वच्छता अभियान में भाग लिया। जलाशय से तरह- तरह की गंदगी बाहर करने के साथ वहाँ जमी काई को भी धोकर साफ किया। लोगों का विश्वास है कि इस तरह की सफाई से वहाँ गर्मी में पानी पीने आने वाले मवेशियों को बहुत फायदा होगा


Write Your Comments Here:


img

dqsdqsd

sqsqdsqdqs.....

img

sqdqsdqsdqsd.....

img

Op

gaytri shatipith jobat m p.....