Published on 2018-04-25
img

गुवाहाटी। असम
गायत्री चेतना केन्द्र बेहारबाड़ी, गुवाहाटी पर दिनांक १०, ११ मार्च को पूर्वोत्तर युग निर्माता युवा सम्मेलन सम्पन्न हुआ। मुख्य वक्ता युवा प्रकोष्ठ प्रभारी शांतिकुंज प्रतिनिधि श्री केदार प्रसाद दुबे एवं पूर्वोत्तर जोन प्रभारी श्री परमानंद द्विवेदी ने सभी सातों राज्यों से आये चुने हुए उत्साही, सेवाभावी युवाओं का अनेक विषयों पर मार्गदर्शन किया। पूरे पूर्वोत्तर में युवाओं के उत्थान संबंधी अनेक विषयों पर चिंतन- मनन हुआ, परिणाम स्वरूप भावी सक्रियता के महत्त्वपूर्ण सूत्र उभरे।

श्री के.पी. दुबे ने वर्तमान युग की समस्याओं और उनके समाधान की विस्तार से चर्चा की। उन्होंने अपना रोजगार या व्यवसाय चलाते हुए भी समाज निर्माण के लिए व्यक्तिगत एवं संगठित होकर क्या किया जा सकता है, इस संबंध में चर्चा की। उन्होंने आत्मबल को समाजसेवी कार्यकर्त्ताओं की सबसे बड़ी पूँजी बताया और इसे निरंतर बढ़ते रहने के लिए उपासना, साधना, आराधना के सूत्रों को नियमित रूप से अपनाने की प्रेरणा दी।

भावी सक्रियता की दिशाधारा
श्री परमानंद द्विवेदी ने पूर्वोत्तर के भावी लक्ष्य और कार्यक्रमों की जानकारी दी। त्रिपुरा जागरण १०८ कुण्डीय गायत्री महायज्ञ, अरुणाचल में महिला प्रशिक्षण, नशामुक्त पूर्वोत्तर अभियान, स्कूल- कॉलेजों में डिवाइन वर्कशॉप, पूर्वोत्तर के चाय बागानों को सुसंस्कृत, समृद्ध बनाने की योजनाओं की चर्चा उन्होंने की।

दिया, पूर्वोत्तर के कार्यालय का शुभारंभ

कार्यक्रम में उपस्थित युग सृजेताओं की उपस्थिति में गायत्री चेतना केन्द्र गुवाहाटी पर डिवाइन इंडिया यूथ एसोसिएशन की पूर्वोत्तर शाखा के कार्यालय का शुभारंभ हुआ। इस अवसर पर उपस्थित सभी युवाओं को 'दिया' की नई टी- शर्ट बाँटी गई।

इस कार्यक्रम में पहुँचे शांतिकुंज प्रतिनिधि श्री दिवाकर पारखे एवं देसंविवि के श्री प्रमोद कुमार का मार्गदर्शन भी मिला। चेतना केन्द्र प्रबंधक श्री रामशिरोमणि तिवारी ने सभी अतिथियों का धन्यवाद ज्ञापन किया।


Write Your Comments Here:


img

dqsdqsd

sqsqdsqdqs.....

img

sqdqsdqsdqsd.....

img

Op

gaytri shatipith jobat m p.....