img

दिनांक १६ जून २०१३ की सायं एवं १७ जून २०१३ की प्रात: हिमालय क्षेत्र में विशेषकर केदारघाटी में तुफानी वर्षा और बादल फटने से भायनक विपदा घटित हई, जिसमें हजारों यात्री और स्थानीय लोगों की जीवन लीला समाप्त हो गई। अभी भी उस क्षेत्र में भारी बरसात हो रही है। क्षेत्र की संभवत: सभी नदियों ने विकराल रूप धारण कर लिया है।

इस विपदा में
शांतिकुन्ज, हरिद्वार की प्रेरणा से हजारों गायत्री परिजन राहत योजनाओं में अपना बढ़- चढ़ कर योगदान दे रहें हैं। १६ जुलाई २०१३ मंगलवार को इस त्रासदी को एक माह पूर्ण हो रहा है। इस विपदा में भारत के सभी क्षेत्रों के तीर्थयात्री प्रभावित हुए हैं।

गायत्री परिवार
शांतिकुन्ज, हरिद्वार द्वारा सम्पूर्ण भारत तथा विदेशों में स्थित सभी शक्तिपीठों, प्रज्ञापीठों एवं चेतना केन्द्रों में मंगलवार दिनांक १६ जुलाई २०१३ को विपदा में आहत परिजनों के कष्ट निवारणार्थ एवं दिवंगत हई आत्माओं की शान्ति हेतु सायं ६:३० से ७:०० बजे तक विशेष प्रार्थना सभा का आयोजन होना है।

इस सभा में आपद- ग्रस्त जनता के
भावनात्मक पोषण, पूर्ण स्वस्थता हेतु एवं कालकवलित यात्रियों के आत्मा के शान्ति हेतु २४ बार गायत्री मंत्र, बार महामृत्युन्जय मंत्र तथा शान्तिपाठ का आयोजन किया जाना है। इस प्रार्थना सभा में अन्याय भाषण आदि नहीं होंगे। केवल प्रारम्भ में सभा का उद्देश्य बताकर पूर्ण गंभीरता से प्रार्थना सभा आयोजित हो ऐसी अपेक्षा की गयी है।

यह जानकारी सभी सम्बन्धित शक्तिपीठों, प्रज्ञापीठों, चेतना केन्द्रों
अवं समस्त परिजनों तक पहुँचा दें, जिससे पूरे देश में १६ जुलाई २०१३ को एक ही समय में हुतात्माओं की शान्ति के लिए भाव भरी श्रद्धाञ्जलि अर्पित की जा सके।


Write Your Comments Here:


img

शांतिकुंज में मनाया जायेगा गुरु गोविन्द सिंह जी महाराज का ३५० प्रकाशोसत्व

सभी सिक्ख भाई- बहिनों को भावभरा आमंत्रण

वर्ष २०१७- १८ में देशभर में सिक्ख मतावलम्बियों के दशम गुरु गुरु गोविंद सिंह जी महाराज के ३५०वें प्रकाशोत्सव के उपलक्ष्य में समारोह आयोजित हो रहे हैं। अखिल विश्व गायत्री परिवार भी २२ अगस्त.....

img

नव सृजन युवा संकल्प समारोह, नागपुर

नव सृजन युवा संकल्प समारोह, नागपुर दिनांक 26, 27, 28 जनवरी 2018
यौवन जीवन का वसंत है तो युवा देश का गौरव है। दुनिया का इतिहास इसी यौवन की कथा-गाथा है।  कवि ने कितना सत्य कहा है - दुनिया का इतिहास.....