Published on 2018-04-29

गायत्री विद्यापीठ में कला एव विज्ञान प्रदर्शनी में विद्यार्थियों ने दिखाया हुनर

हाइड्रोलिक से लेकर एटीएम मशीन भी बनाई बाल वैज्ञानिकों ने

हरिद्वार २८ अप्रैल।

गायत्री विद्यापीठ शांतिकुंज में शनिवार को कला एवं विज्ञान प्रदर्शनी का आयोजन हुआ। प्रदर्शनी का उद्घाटन विद्यापीठ के अभिभावक व शांतिकुंज अधिष्ठात्री श्रद्धेया शैलदीदी ने दीप प्रज्वलन कर किया।

                श्रद्धेया शैलदीदी ने विद्यापीठ के विद्यार्थियों द्वारा बनाई गयी हाइड्रोलिक मशीन, एटीएम, स्वच्छ भारत अभियान, वाटर क्यूरिफायर, वैक्यूम क्लीनर, जीएसटी व जीपीआरएस सिस्टम का प्रेजेण्टेशन आदि की सराहना करते हुए कहा कि विद्यापीठ द्वारा विद्यार्थियों की पढ़ाई के साथ-साथ उनमें रचनात्मकता को विकसित करने के उद्देश्य से विभिन्न आयोजन किये जाते हैं। आज कला व विज्ञान प्रदर्शनी ने बच्चों की ऊँची सोच के साथ राष्ट्र के विकास में उनका महत्वपूर्ण योगदान को दर्शाता है। बालमन में इस तरह का विचार आना भारत के उज्ज्वल भविष्य का संकेत है। प्रतिकुलपति डॉ. चिन्मय पंड्या ने कहा कि बाल्यावस्था भविष्य का बीजांकुर करने का सुअवसर है।

                प्रदर्शनी में कक्षा पाँच से ११ तक के विद्यार्थियों ने विज्ञान के क्षेत्र में विभिन्न आधुनिक मशीनों का मॉडल तैयार कर अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया, तो वहीं बाल कलाकारों ने सुन्दर-सुन्दर पेंटिंग्स के माध्यम से गंगा को निर्मल व अविरल बनाने, हिमालय के संरक्षण, स्वच्छ भारत की मॉडल, र्ग्रीन सिटी, वेस्ट से बेस्ट की परिकल्पना को साकार रूप देते हुए स्टडी लैम्प आदि ने अतिथियों को आकर्षित किया। प्रदर्शनी में झरना, फौब्बारा, सौर मण्डल, मानव संरचना आदि के मॉडल में बाल वैज्ञानिकों ने अपना जबरदस्त हूनर दिखाया। यहाँ बतातें चले कि प्रदर्शनी में लगे अधिकतर मॉडल वेस्ट से बेस्ट पर आधारित था। इस अवसर पर विद्यालय प्रबंधन समिति की अध्यक्षा श्रीमती शेफाली पण्ड्या, उपप्रधानाचार्य भास्कर सिन्हा सहित समस्त शिक्षकगण उपस्थित रहे।

इनके मॉडल रहे आकर्षक -    

कु. आहुति, प्रज्ञेश बेहेरा, देवस्य देसाई, प्रखर, जाह्ननी, हेमंत, तन्मय, ओजस सिन्हा,   गीतिका, प्रज्ञेश गढ़वाल, लक्ष्य, सिमरन, अविनाश, स्तुति, श्रेव्या, तेजस्विनी, शुभांशु, ऋषिका, श्रेया, ऐश्वर्या, राहुल, गौतम, कृष्णा, अरविन्द आदि।


Write Your Comments Here:


img

11 जनवरी, देहरादून। उत्तराखंड ।

दिनांक 11 जनवरी 2020 की तारीख में देव संस्कृति विश्वविद्यालय शांतिकुंज हरिद्वार के प्रतिकुलपति आदरणीय डॉक्टर चिन्मय पंड्या जी देहरादून स्थित ओएनजीसी ऑडिटोरियम में उत्तराखंड यंग लीडर्स कॉन्क्लेव 2020 कार्यक्रम में देहरादून पहुंचे जहां पर उन्होंने उत्तराखंड राज्य के विभिन्न.....

img

ज्ञानदीक्षा समारोह में लिथुआनिया सहित देश के 12 राज्यों के नवप्रवेशी विद्यार्थी हुए दीक्षित

देवसंस्कृति विश्वविद्यालय के कुलाधिपति डॉ प्रणव पण्ड्या ने कहा कि जो आचरण से शिक्षा दें वही आचार्य है और ऐसे आचार्यगण ही विद्यार्थियों को चरित्रवान बना सकते हैं। डॉ. पण्ड्या ने कहा कि जिस तरह चाणक्य ने अपने ज्ञान व.....

img

ञानदीक्षा समारोह में लिथुआनिया सहित देश के 12 राज्यों के नवप्रवेशी विद्यार्थी हुए दीक्षित

देवसंस्कृति विश्वविद्यालय के कुलाधिपति डॉ प्रणव पण्ड्या ने कहा कि जो आचरण से शिक्षा दें वही आचार्य है और ऐसे आचार्यगण ही विद्यार्थियों को चरित्रवान बना सकते हैं। डॉ. पण्ड्या ने कहा कि जिस तरह चाणक्य ने अपने ज्ञान व.....