Published on 2018-05-21

शांतिकुंज की प्रेरणा से 'श्रीराम स्मृति उपवन' की तरह ऋषिकेश में बनाया पहला स्वास्थ्य उद्यान। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को प्रत्येक जिले में ऐसे स्वास्थ्य उद्यान बनाने को कहा।

'ऐसे स्वास्थ्य उद्यान नागरिकों को स्वास्थ्य लाभ देंगे, उन्हें स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करेंगे। यह पर्यटकों के आकर्षण का केन्द्र भी होंगे।'   •  माननीय श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावतजी

उत्तराखंड के वन विभाग के अधिकारियों ने देव संस्कृति विश्वविद्यालय के श्रीराम स्मृति उपवन से प्रेरणा लेते हुए ठीक वैसा ही एक उद्यान ऋषिकेश-नरेन्द्र नगर मार्ग पर स्थित सुशीला देवी तिवारी उद्यान में निर्मित कराया है। ६ मई २०१८ को प्रदेश के मुख्यमंत्री माननीय श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने इसका लोकार्पण किया। शांतिकुंज प्रतिनिधि श्री के.पी. दुबे से शांतिकुंज की प्रेरणा और संपूर्ण तकनीकी सहयोग से बने इस उद्यान की विस्तृत जानकारी पाकर वे अत्यंत प्रसन्न हुए। उन्होंने उसी समय पूरे प्रदेश में ऐसे स्वास्थ्य उद्यान बनाने के निर्देश अपने अधिकारियों को दिये।

स्थापनाएँ
• रसाहार केन्द्र
• एक्यूप्रेशर पथ
• नवग्रह-नक्षत्र, औषधि वाटिका आदि

इस स्वास्थ्य उद्यान का निर्माण वन विभाग, उत्तराखंड के उन वरिष्ठ अधिकारियों ने कराया है जो पिछले दिनों देव संस्कृति विश्वविद्यालय आये और वहाँ बने श्रीराम स्मृति उपवन को देखकर बहुत प्रभावित हुए। शांतिकुंज के आन्दोलन प्रकोष्ठ ने उन्हें नक्शा बनाने से लेकर टाइल्स बनवाने, वनस्पतियों का चयन करने,  प्रचार-प्रसार करने में उनका पूरा-पूरा सहयोग किया।
उद्यान के लोकार्पण समारोह में भी शांतिकुंज का पूरा-पूरा सहयोग रहा। श्री के.पी. दुबे ने मंच संचालन करते हुए हरीतिमा संवर्धन के लिए शांतिकुंज द्वारा चलाये जा रहे राष्ट्रीय अभियान की जानकारी भी दी। इस अवसर पर राज्य के विधान सभा अध्यक्ष, वन मंत्री, कृषि मंत्री, वन विभाग के उच्च अधिकारी व फील्ड स्टाफ का पूरा दस्ता उपस्थित था।

रसाहार केन्द्र को आरंभ कराने में गायत्री शक्तिपीठ भोपाल के कार्यकर्त्ताओं की विशेष भूमिका रही। वहीं पूरे उद्यान के निर्माण में गायत्री परिवार के समर्पित कार्यकर्त्ता श्री बद्री प्रसाद बधानी,वन विभाग के परिक्षेत्र अधिकारी नरेंद्रनगर  की बहुत महत्वपूर्ण भूमिका रही।


Write Your Comments Here:


img

Sneh Milan Dipavli (samarambh)

Yug Shakti Gaytri, Akhand juotu,pragya abhiyan vachak avm Gyangadh dharak, avm parijano ka sneh Milan samrambh 6:00 pm to 8:00 pm on Shaktipith Godhra, Panchmahal.....

img

तनाव का मुख्य कारण-असंयमित जीवन

विद्यार्थियों को जीने की सही राह दिखाने के लिए निरंतर सक्रिय दिया, छत्तीसगढ़भिलाई। छत्तीसगढ़दिया, छत्तीसगढ़ द्वारा बी.एस.पी. इंग्लिश मीडियम मिडिल स्कूल रुआबांधा, इ.एम.एम. स्कूल सेक्टर-6 और कल्याण कॉलेज के वनस्पति शास्त्र विभाग में व्यक्तित्व परिष्कार कार्यशालाओं का आयोजन किया गया।.....

img

  251 हवन कुंड में 3501 साधकों ने दीं विश्व कल्याण के लिए 73,521 बार आहुतियां, वैदिक मंत्रों से अग्निदेव को स्थापित किया Korba News - सोमवार को इंदिरा स्टेडियम परिसर में गायत्री महायज्ञ के दौरान वैदिक.....