Published on 2018-05-23
img

रेवतडा, जालौर। राजस्थान
गायत्री परिवार के परिजन जहाँ भी जाते हैं, अपने गुरुदेव के सतयुगी संकल्पों को सदैव साथ रखते हैं। केरल में कोझीकोड (कालीकट) निवासी समर्पित कार्यकर्त्ता श्री गोपाल सिंह राजपुरोहित भी उन्हीं विभूतियों में से एक है।

श्री गोपाल जी अपने एक पारिवारिक विवाह में जन्मभूमि रेवतड़ा पहुँचे थे। वहाँ उन्होंने विवाहोपरांत २४ कुण्डीय यज्ञ और दीपयज्ञ का सार्वजनिक कार्यक्रम भी किया। इतना ही नहीं, यज्ञ से पूर्व पूरे गाँव में स्वच्छता अभियान भी चलाया। उनके साथ लीला बेन राजपुरोहित, धन वर्षा राजपुरोहित, मधु कँवर राजपुरोहित ने स्वच्छता अभियान का नेतृत्व किया, गाँव के लोगों को साथ लिया। गाँव वालों को पूरे मनोयोग के साथ गायत्री परिवार और प्रधानमंत्री जी के अभियान के साथ जुड़ने की प्रेरणा दी, ताकि अपने गाँव को स्वच्छ, स्वस्थ, सुंदर बनाया जा सके।

स्वच्छता अभियान में राजकीय उ. माध्यमिक विद्यालय रेवतडा के प्राचार्य श्री ओमप्रकाश विश्नोई, उनके स्कूल के सभी बच्चे एवं माँ ज्वाला देवी मंदिर के अध्यक्ष श्री विजय राजपुरोहित ने विशेष उत्साह के साथ भाग लिया।

प्रज्ञा अभियान के २५० सदस्य बनाएँगे
कालीकट निवासी गोपाल सिंह राजपुरोहित ने शक्तिसंवर्धन वर्ष में प्रज्ञा अभियान पाक्षिक के माध्यम से युग निर्माण आन्दोलन के व्यापक विस्तार का संकल्प लिया है। उन्होंने शांतिकुंज आकर अपने निवासीय नगर कालीकट और व्यावसायिक नगर हैदराबाद में १००- १०० प्रज्ञा अभियान मँगाने, एवं पैत्रिक गाँव रेवतड़ा विद्यालयों सहित घर- घर प्रज्ञा अभियान पहुँचाने का संकल्प लिया है।


Write Your Comments Here:


img

बालसंस्कारशाला

शक्तिपीठ युवामंडल द्वारा प्रत्येक रविवार को शाहजहांपुर नगर क्षेत्र में आठ बाल संस्कार शाला संचालित होती है जिसमें शक्तिपीठ बाल संस्कारशाला ,आनंद बाल संस्कार शाला भगवती बाल संस्कार शाला ,शिव बाल संस्कार शाला ,श्री राम बाल संस्कार शाला ,स्वामी विवेकानंद.....

img

सम्मान समारोह

13/10/19 को गायत्री प्रज्ञा पीठ कुँवाखेड़ा लक्सर हरिद्वार उत्तराखंड में वरिष्ठ कार्यकर्ता श्री बूलचंद जी को शारिरिक कार्य से विश्राम एवँ मार्गदर्शक नियुक्त होने पर उनका सम्मान एवं भोग प्रसाद का कार्यक्रम संम्पन हुआ।.....