Published on 2018-05-30
img

  • यज्ञ में मध्य प्रदेश, गुजरात, महाराष्ट्र, राजस्थान, छत्तीसगढ़ तथा ओडिशा से आये २५००० लोगों ने भाग लिया।
  • ३०० लोगों ने दीक्षा ली, २०० भाई- बहिनों ने यज्ञोपवीत धारण किये।
  • अधिकांश युवाओं ने नशे से दूर रहने का संकल्प लिया।
बदल रहा है वनवासियों का जीवन

सालीटांडा, बड़वानी। म. प्र.
शक्तिपीठ सालीटांडा के तत्त्वावधान में ग्राम धनोरा में २४ कुण्डीय गायत्री महायज्ञ एवं संस्कार महोत्सव सम्पन्न हुआ। २४ गाँवों से कलश यात्रा आई। इस क्रम में ५००० से ज्यादा वनवासी भाई- बहिनों ने ५१ गाँवों में नशामुक्ति और सामाजिक समरसता का संदेश दिया।
आयोजन आदिवासियों के उत्थान की विभिन्न योजनाओं पर केन्द्रित था। शांतिकुंज से पहुँची श्री सूरतसिंह अमृते की टोली ने श्रद्धालुओं को युगऋषि के सद्विचारों से जुड़ने और नशा जैसी कुरीतियों को छोड़ने के लिए प्रेरित किया। ३०० भाई- बहिनों ने गुरुदीक्षा ली तथा २०० भाई- बहिनों ने यज्ञोपवीत धारण किये।

लाखों वनवासियों के प्रेरणास्रोत संत डेमनिया बाबा ने उपस्थित श्रद्धालुओं को श्रमशीलता और स्वावलम्बन का पाठ पढ़ाया। उन्होंने कहा कि हम अपनी मेहनत से अपना भाग्य बदलने वाले लोग हैं। हमें अपने उत्कर्ष के लिए नशे की बुराई को छोड़कर कुटीर उद्योगों को अपनाना और स्वावलम्बी जीवन जीना होगा। हम सबको सद्बुद्धि की देवी माँ गायत्री की शरण में जाना होगा।


Write Your Comments Here:



Warning: Unknown: write failed: No space left on device (28) in Unknown on line 0

Warning: Unknown: Failed to write session data (files). Please verify that the current setting of session.save_path is correct (/var/lib/php/sessions) in Unknown on line 0