Published on 2018-05-30
img

  • यज्ञ में मध्य प्रदेश, गुजरात, महाराष्ट्र, राजस्थान, छत्तीसगढ़ तथा ओडिशा से आये २५००० लोगों ने भाग लिया।
  • ३०० लोगों ने दीक्षा ली, २०० भाई- बहिनों ने यज्ञोपवीत धारण किये।
  • अधिकांश युवाओं ने नशे से दूर रहने का संकल्प लिया।
बदल रहा है वनवासियों का जीवन

सालीटांडा, बड़वानी। म. प्र.
शक्तिपीठ सालीटांडा के तत्त्वावधान में ग्राम धनोरा में २४ कुण्डीय गायत्री महायज्ञ एवं संस्कार महोत्सव सम्पन्न हुआ। २४ गाँवों से कलश यात्रा आई। इस क्रम में ५००० से ज्यादा वनवासी भाई- बहिनों ने ५१ गाँवों में नशामुक्ति और सामाजिक समरसता का संदेश दिया।
आयोजन आदिवासियों के उत्थान की विभिन्न योजनाओं पर केन्द्रित था। शांतिकुंज से पहुँची श्री सूरतसिंह अमृते की टोली ने श्रद्धालुओं को युगऋषि के सद्विचारों से जुड़ने और नशा जैसी कुरीतियों को छोड़ने के लिए प्रेरित किया। ३०० भाई- बहिनों ने गुरुदीक्षा ली तथा २०० भाई- बहिनों ने यज्ञोपवीत धारण किये।

लाखों वनवासियों के प्रेरणास्रोत संत डेमनिया बाबा ने उपस्थित श्रद्धालुओं को श्रमशीलता और स्वावलम्बन का पाठ पढ़ाया। उन्होंने कहा कि हम अपनी मेहनत से अपना भाग्य बदलने वाले लोग हैं। हमें अपने उत्कर्ष के लिए नशे की बुराई को छोड़कर कुटीर उद्योगों को अपनाना और स्वावलम्बी जीवन जीना होगा। हम सबको सद्बुद्धि की देवी माँ गायत्री की शरण में जाना होगा।


Write Your Comments Here:


img

Weekly Yagya

In the village of Sarhila weekly yagya is regularly held and many people are becoming part of this yagya......

img

साप्ताहिक यज्ञ

पिछले एक वर्ष से समस्तीपुर जिले के सरहिला ग्राम में सुश्री मनोरमा जी के तत्वाधान में साप्ताहिक यज्ञ का आयोजन किया जा रहा है। प्रत्येक दिन लगभग 20-25 लोग इस यज्ञ में शामिल होते हैं। समय समय पर अनुष्ठान भी.....

img

नौ कुण्डी यज्ञ

मोंटफोर्ट इंटरकालेज लक्सर संस्थापक श्री यशवीर चौधरी जी द्वारा अपने नए हाल का शांतिकुंज के आये टोली के माध्यम से नौ कुंडी यज्ञीय परिवेश में अपने हाल एवं ऑफिस का उद्दघाटन किया।.....