Published on 2018-06-14
img

श्री उमाकांत मिश्रा को सेवा निवृत्त हुए ६ वर्ष हो चुके हैं, लेकिन उनके लगाए पेड़ आज भी लोगों को उनकी याद दिलाते हैं।

बिलासपुर। छत्तीसगढ़
सहायक नाजिर सहित कई पदों पर कार्य कर चुके श्री उमाकांत मिश्रा को सेवा निवृत्त हो चुके ६ वर्ष हो चुके, लेकिन उनके द्वारा लगाए गए २०० पेड़ों से हराभरा कलेक्टरेट परिसर आज भी वहाँ काम कर रहे लोगों को उनकी याद दिलाता है, उनके सामीप्य का अहसास कराता है। हरीतिमा संवर्धन की उनकी लगन से वहाँ आने वाले सैकड़ों लोग सुख पा रहे हैं और पाते रहेंगे।
श्री उमाकांत मिश्रा को जब कलेक्टरेट में नौकरी मिली तब वहाँ इक्का- दुक्का पेड़ ही थे। श्री उमाकांत मिश्रा ने बैडमिंटन परिसर से पेड़ लगाना आरंभ किया। स्वयं माली का काम सीखा। अन्य लोग तो १० से ५ की नौकरी करते, लेकिन वे सुबह से ही गैंती- फावड़ा लेकर कलेक्टरेट पहुँच जाते और अपने लगाए पेड़ों की सेवा करते दिखाई देते। उन्होंने पाम, अशोक, नीम, नारियल सहित अनेक प्रजाति के पेड़ लगाकर पूरे परिसर को हराभरा कर दिया।


Write Your Comments Here:


img

पुसंवन संस्कार

07/07/2020 mumbai- गुरु पूणिऀमा के पावन पर्व के दिन सौभाग्यवती वैदेही जी का पुसंवन संस्कार उलहास एवं श्रद्धा पूवऀक मनाया गया ] आआे गढें ‌संस्कार वान पीढी कायऀक्रम के अंतर्गत सौभाग्यवती उजवला जी का पुसंवन संस्कार श्रद्धा एवं.....

img

गुरु पूर्णिमा 2020

Guru Purnimaगुरु पूर्णिमा का पावन पर्व आज दिनांक 5 जुलाई 2020 दिन रविवार को स्थानीय गायत्री शक्तिपीठ पर उत्साहपूर्वक एवं शारीरिक दूरी [Physical.....