कुमाऊँ अंचल में श्रद्धा संवर्धन महायज्ञ शृंखला

Published on 2018-07-07
img

नशामुक्ति, नारी जागरण, शाकाहार, बलि प्रथा उन्मूलन, वृक्षारोपण आदि अभियानों को मिला जनमानस का भरपूर समर्थन

काशीपुर, उधमसिंह नगर। उत्तराखंड
देवभूमि उत्तराखंड के कुमाऊँ मण्डल में १ से २२ मई तक श्रद्धा संवर्धन गायत्री महायज्ञ शृंखला सम्पन्न हुई, जिसका संचालन शांतिकुंज से पहुँची डॉ. अशोक ढोके की टोली ने किया। काशीपुर, लामाचौड़, पंतनगर, अल्मोड़ा, पिथौरागढ़, बागेश्वर तथा मानिला में आयोजित इन कार्यक्रमों ने धार्मिक, शैक्षिक, सामाजिक हर वर्ग को आध्यात्मिक जीवन शैली एवं संस्कार परम्परा के वैज्ञानिक- व्यावहारिक स्वरूप से अवगत कराया, जिससे उनकी भारतीय संस्कृति के प्रति आस्था प्रगाढ़ हुई है।

अल्मोड़ा के कार्यक्रम की कलश यात्रा का शुभारंभ मुख्य अतिथि एसएसपी सुश्री पी. रेणुका देवी ने हरी झंडी दिखाकर किया। इस कार्यक्रम में सामाजिक एकता- सद्भाव बढ़ाने, नारी शक्ति को नई गरिमा प्रदान करने व समाज को नशीले पदार्थों से मुक्ति दिलाने जैसे विषयों पर हुई चर्चा ने खूब प्रभावित किया। सांस्कृतिक नगरी अल्मोड़ा में गायत्री माता की प्राण प्रतिष्ठा की आवश्यकता अनुभव की गई।

पिथौरागढ़ की कलश यात्रा में कुमाउनी परिधान पहने ५०० बहिनों ने भारत निर्माण और नशामुक्त भारत का संदेश दिया। समाजसेवी डॉ. कच्चाहारी बाबा ने शाकाहार को प्रोत्साहन दिया।

बागेश्वर :
मार्कण्डेय ऋषि की तपोभूमि बागेश्वर के बाघनाथ मंदिर में कंट्री वाइड, गायत्री विद्या मंदिर, राजकीय इ. कॉलेज के विद्यार्थियों ने कलश यात्रा में कन्या भ्रूण हत्या रोकने और बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ आन्दोलन को प्रमुखता से उकेरा। यज्ञ की पूर्णाहुति के समय सैकड़ों लोगों ने नशा छोड़ने के संकल्प लिए।

भिकिया सैंण : प्रकृति की मनोरम छटा के बीच मानिला (भिकिया सैंण) स्थित प्राचीन शक्तिपीठ पर कार्यक्रम हुआ। यह ४० हजार स्कूली बच्चों से सम्पर्क कर चुके श्री कुडाकोटी जी के विशेष सहयोग से सम्पन्न हुआ। शक्तिपीठ के मुख्य ट्रस्टी श्री मनराल जी ने वहाँ शांतिकुंज के निर्देशन में पंचगव्य चिकित्सा, प्राकृतिक चिकित्सा एवं रसाहार केन्द्र बनाने की योजना बनाई है।

इस कार्यक्रम शृंखला में हल्दूचौड़ के श्री बसंत पाण्डेय की सराहनीय भूमिका रही। उनके अनुसार इन कार्यक्रमों से कुमाऊँ मण्डल में मिशन को समझने में विशेष सहयोग मिलेगा|


Write Your Comments Here:


img

यज्ञ-संस्कार से शिविर का शुभारंभ

रेवाड़ी स्थित ललिता मेमोरियल हॉस्पिटल में रक्तदान शिविर का शुभारंभ गायत्री यज्ञ के साथ कीया गया, साथ ही यज्ञ के दौरान गर्भ-संस्कार का विवेचन भी कीया गया। यज्ञ-संस्कार श्रीमती अनामिका पाठक द्वारा संपन्न कराया गया तथा कार्यक्रम में शहर.....

img

कलेक्टरेट आदि प्रशासनिक कार्यालयों में लगाये जा रहे हैं सद्वाक्य

तुलसीपुर, बलरामपुर। उ.प्र.गायत्री शक्तिपीठ तुलसीपुर के वरिष्ठ परिजन श्री सत्यप्रकाश शुक्ल एवं साथियों ने जिला कलेक्ट्रेट, एसडीएम, सीओ, तहसीलदार आदि वरिष्ठ अधिकारियों के कार्यालयों में जाकर युगऋषि के अनमोल वचन लिखे सनबोर्ड भेंट किये। इन्हें पाकर सभी गद्गद थे। जिलाधिकारी.....

img

बाल संस्कार शाला शुभारंभ

गोंदिया जिले के तिरोड़ा तहसील के ग्राम मालपुरी में बाल संस्कार शाला का शुभारंभ कराया गया। ग्राम के सम्मानीय परिजन तथा बालको के माता-पिता के सहयोग से संस्कार शाला को सतत चलाते रहने का संकल्प लिया गया।.....