Published on 2018-07-20
img

योग दिवस पर देसंविवि प्रतिनिधि को मिला विशेष आमंत्रण

बाकु। अजरबेजान
अजरबेजान की राजधानी बाकु में चौथा अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाने के लिए देव संस्कृति विश्वविद्यालय के प्रतिनिधि को विशेष रूप से आमंत्रित किया। शांतिकुंज प्रतिनिधि श्री जयराम मोटलानी वहाँ पहुँचे और योग के साथ-साथ यज्ञ (अग्नि पूजा) एवं संस्कारों के प्रति स्थानीय लोगों की आस्था बढ़ाई।

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का कार्यक्रम ऐतिहासिक अतेसगाह अग्नि मंदिर में हुआ। अनेक धर्मावलम्बी पर्यटक वहाँ उपस्थित थे। ५ बसों में भारतीय परिवार कार्यक्रम में सम्मिलित होने पहुँचे।

योग से पूर्व इस्कॉन मंदिर ने अपनी परम्परा से यज्ञ कराया, पारसी पुजारी श्री कावस डी. बागली ने अग्यारी प्रज्वलित कर प्रार्थना की, सिक्ख पुजारी डॉ. जसविन्दर सिंह ने अरदास की। अंत में शांतिकुंज प्रतिनिधि ने यज्ञ की वैज्ञानिक विवेचना के साथ यज्ञ कराते हुए जनमानस को मानवीय एकता के सूत्र प्रदान किए। सभी बहुत प्रभावित हुए। भारतीय राजदूत श्री संजय राणा अपनी धर्मपत्नी बारबरा के साथ यज्ञ के मुख्य यजमान थे।

भारतीय राजदूत  के घर यज्ञ-संस्कार
यज्ञोपरांत श्री मोटलानी ने अंतर्राष्ट्रीय मानकों के अनुरूप योग का कार्यक्रम सम्पन्न कराया। तत्पश्चात् ७ दिनों तक अलग-अलग स्थानों पर योग के कार्यक्रम हुए। २२ जून को भारतीय राजदूत श्री संजय राणा ने व्यक्तिगत रूप से अपने आवास पर यज्ञ रखा, जिसमें दूतावास के सभी अधिकारियों ने भाग लिया। उनके पुत्र का जन्मदिवस मनाया। श्रद्धालुओं को जन्मदिवस मनाने की भारतीय परम्परा बहुत पसंद आई।


Write Your Comments Here:


img

उत्तरी अमेरिका में बन रहा है मुनस्यारी जैसा एक दिव्य साधना केन्द्र

श्रद्धेय डॉ. प्रणव जी एवं डॉ. चिन्मय जी ने किया भूमिपूजनकैलीफोर्निया प्रांत में मारिपोसा काउण्टी स्थित यशोमाइट नेशनल पार्क के समीप अखिल विश्व गायत्री परिवार द्वारा एक दिव्य साधना केन्द्र बनाया जा रहा है। श्रद्धेय डॉ. प्रणव पण्ड्या जी एवं.....

img

मिशन के लिए समर्पित साधक- नैष्ठिक कार्यकर्त्ताओं की सेवाओं को मिला सम्मान

माँरिशस में आयोजित ग्यारवें विश्व हिन्दी सम्मेलन में डॉ. रत्नाकर नराले को मिला विश्व हिन्दी सम्मान हिंदी, संस्कृत, भारतीय संगीत और भारतीय संगीत संस्कृति के विश्वव्यापी प्रसार के कार्य कर रहे हैं।मिशन के सक्रिय परिजन कनाडा वासी प्रवासी भारतीय डॉक्टर रत्नाकर.....

img

इंग्लैण्ड वासियों ने बड़ी श्रद्धा के साथ मनाई प.वं. माताजी के पदार्पण की रजत जयंती

डॉ. चिन्मय पण्ड्या जी की उपस्थिति में लेस्टर में सम्पन्न हुआ भव्य समापन समारोह७ से १० अक्टूबर १९९३ इंग्लैण्ड वासियों के सौभाग्य एवं आनन्द तथा अखिल विश्व गायत्री परिवार के इतिहास के अविस्मरणीय दिन हैं। इन्हीं तिथियों में इंग्लैण्ड के.....