Published on 2018-07-25

कालापीपल मंडी।
बचपन के पालने से लेकर अंत्येष्टी की लकड़ी तक वृक्षों से प्राप्त होती है। वृक्ष प्राणी जगत को आधार देते हैं। वे संसार का विष पीकर प्राण वायु प्रदान करते हैं। एक मनुष्य को संपूर्ण जीवन में जितनी ऑक्सीजन एवं काष्ठ की आवश्यकता होती है उसे तीन पेड़ मिलकर पूरा करते हैं। हमें सांसों के कर्ज से मुक्ति के लिए तीन पौधे लगाकर उसका पोषण करना चाहिए। जिस प्रकार दस सरोवरों के समान एक पुत्र का महत्व बताया गया है उसी प्रकार दस पुत्रों के सामान एक पौधा लगाना पुण्यदायी होता है।


यह बात अखिल विश्व गायत्री परिवार हरिद्वार के प्रमुख डॉ. प्रणव पंड्या जी  ने कही। ग्राम इमलीखेड़ा में रविवार को गायत्री परिवार के वृक्ष गंगा अभियान के तहत तरूपुत्र रोपण महायज्ञ कार्यक्रम किया गया। यहां 2100 जोड़े के साथ कई लोगों ने 5001पौधों का रोपण किया। इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में डॉ. पंड्या का अभिनंदन किया गया। अभिनंदन पत्र का वाचन जिला समन्वयक शैलेन्द्र श्रीवास्तव ने किया। प्रगति प्रतिवेदन प्रस्तुत करते हुए सरपंच जगदीश परमार ने रूपरेखा प्रस्तुत की। कार्यक्रम में 3 पौधों की त्रिवेणी बनाकर अध्यक्षता करवाई गई। विशेष अतिथि विधायक इंदरसिंह परमार थे। अध्यक्षता कर रहे त्रिवेणी पौधे एवं मां गायत्री के फोटो पर पूजन कर कार्यक्रम प्रांरभ हुआ। स्वागत गीत हरिद्वार से आए गायत्री परिजनों ने प्रस्तुत किया। कार्यक्रम में मौजूद 2100 जोड़ों की गोद में पौधे देकर उनका सामूहिक पूजन किया गया। कार्यक्रम में पूरे प्रदेश से गायत्री परिजन एवं क्षेत्रवासी ग्राम इमलीखेड़ा पहुंचे। पौधारोपण क्षैत्र में ही विशाल पंडाल बनाया गया। उसे आकर्षक रंगोली से सजाया गया। कार्यक्रम पश्चात्‌ डॉ. पंड्या जी एवं विधायक परमार ने पौधारोपण कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। इमलीखेड़ा में रौपे गए 5 हजार 1 पौधों की धरती की सुंदरता भी देखते ही बन रही थी। एक ही जगह पर एक साथ इतने पौधे का रोपण होनेवाली धरती को भगवती आंगन नाम दिया गया। संचालन मनोज तिवारी ने किया।



Write Your Comments Here:


img

शांतिकुंज में पर्यावरण दिवस पर हुए विविध कार्यक्रम

वृक्षारोपण वायु प्रदूषण से बचने का सर्वमान्य उपाय - श्रद्धेय डॉ. पण्ड्याजीसंस्था की अधिष्ठात्री ने नागकेशर के पौधा का किया पूजनसायंकालीन सभा में भारतीय संस्कृति व पर्यावरण संरक्षण के लिए हुए संकल्पितहरिद्वार 5 जून।अखिल विश्व गायत्री परिवार के मुख्यालय शांतिकुंज.....

img

चट्टानी जमीन पर रोपे ११०० पौधे

कठिन परिस्थितियाँ, पक्का इरादातरुपुत्र महायज्ञ संयोजक गायत्री परिवार के श्री मनोज तिवारी एवं श्री कीर्ति कुमार जैन ने बताया-चट्टानी जमीन पर वृक्षारोपण के लिए आठ दिन पहले से ही गड्ढे खोदे जा रहे थे।सिंचाई के लिए निकट ही ५०० बोरी.....

img

जयपुर जिले में लगाए जा रहे हैं ३.५० लाख पेड़

जयपुर। राजस्थानजयपुर के मिशननिष्ठ वरिष्ठ जनों ने इस वर्ष वृक्षारोपण का बृहत् अभियान आरंभ किया है। इसके अंतर्गत साढ़े तीन लाख वृक्ष लगाने का संकल्प लिया गया है। ये वृक्ष जगह- जगह समारोहपूर्वक लगाये भी जा रहे हैं और बाँटे.....