Published on 2018-08-04

गायत्री प्रज्ञापीठ बरखेड़ा भेल, भोपाल क्षेत्र में १०८ बाल संस्कार शालाएँ चलाता है। श्रद्धेय डॉ. साहब के साथ उन सभी संस्कार शालाओं के बच्चों, शिक्षक एवं अभिभावकों का सम्मेलन आयोजित हुआ। श्रद्धेय ने उन्हें संस्कार और सद्गुणों से विभूषित महापुरुषों के उत्साहवर्धक जीवन प्रसंग सुनाते हुए जीवन में उत्कृष्टता का वरण करने की प्रेरणाएँ दीं। श्री के.पी. दुबे ने बाल संस्कार शालाओं को कैसे प्रभावी बनाया जाय, इस संदर्भ में मार्गदर्शन दिया। इन संस्कार शालाओं के संचालन में श्री मुकेश साहू, श्री शिवनारायण राजपूत व श्री अनिल श्रीवास्तव का विशेष योगदान है। सर्वश्री वीरकेश्वर सिंह, वी.के. गुप्ता, रामजी पाण्डेय, बी.डी. पाण्डेय भी उपस्थित रहे।


Write Your Comments Here:


img

श्री सत्यनारायण पण्ड्या पंचतत्त्व में विलीन , गायत्री परिवार प्रमुख डॉ. पण्ड्या ने दी मुखाग्नि

हरिद्वार 20 फरवरी।                अखिल विश्व गायत्री परिवार प्रमुख डॉ. प्रणव पण्ड्या के पिता पूर्व न्यायाधीश श्री सत्यनारायण पण्ड्या जी आज पंचतत्त्व में विलीन हो गये। खड़खड़ी स्थित शमशान घाट में उनके दोनों पुत्रों- डॉ. प्रणव पण्ड्या एवं डॉ. अरुण पण्ड्या.....

img

श्री सत्य नारायण पंड्या श्रद्धाजंलि

आज दिनाँक 20 फर0 2019 बुधवार को स्थानीय गायत्री शक्तिपीठ पचपेड़वा पर स्व0 श्री सत्यनारायण पंड्या(96 वर्ष)की आयु में आकस्मिक निधन हो जाने के कारण एक शोकसभा की गई। आत्मा की शांति हेतु जप के माध्यम से श्रद्धाजंलि दी गई।🙏🙏🙏हम.....