Published on 2018-09-06 HARDWAR
img

हरिद्वार ६ सितम्बर।

केरल बाढ़ प्रभावितों के सहायतार्थ अखिल विश्व गायत्री परिवार के प्रमुखद्वय श्रद्धेय डॉ. प्रणव पण्ड्याजी एवं श्रद्धेया शैलदीदी जी ने सवा करोड़ रुपये जमा किया। यह राशि उन्होंने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी से मिलकर प्रधानमंत्री राहत कोश के लिए दी।

डॉ. पण्ड्याजी ने बताया कि पीड़ितों के प्रति सदैव सहानुभूति रखने वाले गायत्री परिवार केरल बाढ़ प्रभावितों के बीच मुस्तैदी के साथ खड़ा है। हमारे हजारों स्वयंसेवक केरल के विभिन्न जिलों में भोजन, मेडिकल, सामुदायिक भवनों के पुनर्निमाण, सफाई अभियान व कीट नाशक दवाओं का छिड़काव जैसे राहत कार्य में जुटे हैं। उन्होंने बताया कि गुजरात भूकंप, केदारनाथ त्रासदी कोई अन्य विपदा, सभी में गायत्री परिवार ने अपनी जिम्मेदारी का बखूबी निर्वंहन किया है। संस्था की अधिष्ठात्री शैलदीदी जी ने कहा कि प्रधानमंत्री जी को भेंट की गयी इस राशि से पीड़ित मानवता की सेवा में सहायता होगी।

डॉ. पण्ड्याजी व शैलदीदी जी के मार्गदर्शन में शांतिकुंज व स्थानीय गायत्री परिवार की टीम पिछले तीन सप्ताह से केरल के बाढ़ पीड़ितों की सेवा में जुटी है। आवासीय व्यवस्था, भोजन, चिकित्सा सेवा से लेकर चयनित क्षतिग्रस्त भवनों के पुननिर्माण के कार्य आदि में स्वयंसेवक जुटे हैं। गायत्री परिवार ने केरल में सात सूत्रीय कार्यक्रम को क्रियान्वित करने के लिए आपदा प्रबंधन समिति का गठन किया है। इस बारे में डॉ. प्रणव पण्ड्याजी ने प्रधानमंत्री जी को अवगत कराया।


Write Your Comments Here:


img

गायत्री परिवार प्रमुखद्वय से मार्गदर्शन ले गंगा सेवा मंडल प्रशिक्षण टोली रवाना

हरिद्वार १४ नवंबर।अखिल विश्व गायत्री परिवार द्वारा संचालित निर्मल गंगा जन अभियान के अंतर्गत संगठित गंगा सेवा मंडलों के प्रशिक्षण हेतु बुधवार को पांच सदस्यीय एक टोली शांतिकुंज से रवाना हुई। ये टोली बिजनौर से लेकर उन्नाव तक के शहरों.....

img

देसंविवि में शौर्य दीवार का हुआ अनावरण

संस्कृति के नायकों व राष्ट्र भक्तों के कारण भारत अक्षुण्ण ः राज्यपालयुवा पीढ़ी के लिए एक नई आजादी की आवश्यकता ः डॉ. पण्ड्याहरिद्वार 10 नवंबर।देवभूमि के राज्यपाल श्रीमती बेबी रानी मौर्य ने कहा कि विश्व भर में सेना के अदम्य.....

img

गायत्री विद्यापीठ के बच्चों ने फटाखा व चीनी वस्तुओं के विरोध में निकाली रैली

शांतिकुंज व देसंविवि ने हर्षाेल्लास से मनाई धन्वन्तरि जयंतीपटाखा नहीं छोड़ने एवं प्रदूषणमुक्त दिवाली मनाने का लिया संकल्पहरिद्वार 5 नवंबर।देवसंस्कृति विश्वविद्यालय स्थित फार्मेसी एवं शांतिकुंज के मुख्य सभागार में आयुर्वेद के प्रवर्तक भगवान धन्वन्तरि की जयंती आयुर्वेद के विकास में.....