Published on 2018-09-24
img

काठमाण्डु। नेपाल
मार्च २०१९ में नेपाल में होने जा रहे अश्वमेध महायज्ञ के प्रयाज स्वरूप नेपाल के प्रबुद्ध जनमानस तक युगऋषि की युग निर्माण योजना के बहुमूल्य सूत्र पहुँचाने में शानदार सफलता मिली। गायत्री शक्तिपीठ बंसबारी काठमाण्डु की प्रभारी बहिन श्रीमती सावित्री काफिले के प्रयासों से काठमाण्डु विश्वविद्यालय से सम्बद्ध स्कूल, कॉलेज एवं कई सार्वजनिक संस्थानों में व्याख्यान माला आयोजित हुई। लखनऊ के अत्यंत उत्साहित युवा अभियंता श्री पी.डी. सारस्वत ने उन्हें संबोधित किया।

प्रथम कार्यशाला काठमाण्डु विवि. के इंजीनियरिंग के विद्यार्थियों के बीच हुई, विषय था 'स्वर योग से व्यक्तित्व परिष्कार'। विवि. के कुलसचिव श्री थापा, प्रो. मुकुन्द प्रसाद उपाध्याय बहुत प्रभावित हुए। उन्होंने देव संस्कृति विश्वविद्यालय, शांतिकुंज आने और मिलकर काम करने के लिए एमओयू करने की इच्छा व्यक्त की।

यूनिग्लोब कॉलेज में बीबीए एवं एमबीए के विद्यार्थियों को 'व्यक्तिगत एवं व्यावसायिक प्रबंधन में आध्यात्मिक दृष्टिकोण' विषय से संबोधित किया। जीवन के प्रति एक नया दृष्टिकोण उन्हें मिला।

पीएच.डी. सेण्टर में शोध छात्रों, कई संस्थान एवं प्रतिष्ठानों के प्रमुखों, सरकारी अधिकारियों के बीच 'समय और तनाव प्रबंधन पर व्याख्यान हुआ।
आदर्श कॉलेज में सुश्री रीता सारस्वत ने 'आओ गढ़ें संस्कारवान पीढ़ी' विषय को पावर पॉइण्ट के साथ बड़ी कुशलता से समझाया। कई चिकित्सक, कार्यकर्त्ता और बड़ी संख्या में गर्भवती बहिनों ने इसे सुना और ऐसे शानदार पथ प्रदर्शन के लिए हृदय से आभार व्यक्त किया।

काठमाण्डु विवि. के प्रो. मुकुन्द प्रसाद उपाध्याय ने नेपाल में वैदिक विधि से संस्कार परम्परा के पुनर्जीवन के लिए 'नैमिषारण्य गुरुकुल' की स्थापना की है। उन्होंने अपने दो शिक्षकों को शांतिकुंज की परम्परा और शिक्षा व्यवस्थाओं का शिक्षण लेने के लिए देव संस्कृति विश्वविद्यालय भेजने का मन बनाया है।

प्राणवान, निष्ठावान कार्यकर्त्ता श्री पी.डी. सारस्वत ने बताया कि इस प्रकार के ३० कार्यक्रम उनके काठमाण्डु प्रवास में आयोजित हुए। इन कार्यक्रमों की उपलब्धियों पर हार्दिक प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि इससे प्रभावित प्रबुद्धजन अश्वमेध की सफलता में बड़ी महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाएँगे। इसके लिए उन्होंने कार्यक्रम संयोजिका श्रीमती सविता काफले की सक्रियता, त्याग और मिशननिष्ठा की भी सराहना की।


Write Your Comments Here:


img

anganwadi स्कूल मैं जाके गायत्री मंत्र और गायत्री माँ के चम्त्कार् के बारे मैं बताया

मैं यशवीन् मैंने आज राजस्थान के barmer के बालोतरा मैं anganwadi स्कूल मैं जाके गायत्री माँ के बारे मैं बच्चों को जागरूक किया और वेद माता के कुछ बातें बताई और महा मंत्र गायत्री का जाप कराया जिसे आने वाले.....

img

युग निर्माण हेतु भावी पीढ़ी में सुसंस्कारों की आवश्यकता जिसकी आधारशिला है भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा -शांतिकुंज प्रतिनिधि आ.रामयश तिवारी जी

वाराणसी व मऊ उपजोन की *संगोष्ठी गायत्री शक्तिपीठ,लंका,वाराणसी के पावन प्रांगण में संपन्न* हुई।जहां ज्ञान गंगा की गंगोत्री,*महाकाल का घोंसला,मानव गढ़ने की टकसाल एवं हम सभी के प्राण का केंद्र अखिल विश्व गायत्री परिवार शांतिकुंज,हरिद्वार* से पधारे युगऋषि के अग्रज.....

img

Yoga Day celebration

Yoga day celebration in Dharampur taluka district ValsadGaytri pariwar Dharampur.....