Published on 2018-09-26
img

अमरनाथ। जम्मू- कश्मीर

सुप्रसिद्ध तीर्थ अमरनाथ की यात्रा के दिनों में पवित्र गुफा के निकट बुढलाडा, शाहकोट, मानसा, दिल्ली, राजौरी गार्डन तथा अमृतसर के श्रद्धालु हर वर्ष भण्डारे चलाते हैं। पश्चिमोत्तर ज़ोन, शांतिकुंज और लुधियाना (पंजाब) शाखा के प्रतिनिधि भी उन दिनों वहाँ पहुँचते हैं और सभी भंडारों में जाकर परम पूज्य पं. श्रीराम शर्मा शर्मा आचार्य के विचारों को श्रद्धालुओं तक पहुँचाते हैं।

इस वर्ष शांतिकुंज से श्री विजय रावत, श्री शोकेन्द्राचार्य एवं सुरेंद्र जी अमरनाथ पहुँचे। उन्होंने भण्डारों में जाकर यज्ञ- दीपयज्ञ किये। श्रद्धालुओं और सेवा- सुरक्षा में तैनात पुलिस, सेना के जवान तथा पुरोहितों से व्यक्तिगत संपर्क किया। उन्हें भगवान शिव का तत्त्वदर्शन समझाया। शिवभक्ति के नाम पर नशाखोरी, असहिष्णुता जैसी आदतों को अविवेकपूर्ण बताया। तीर्थ को स्वच्छ रखने के लिए स्वच्छता अभियान भी चलाया।
अनेक लोग प्रभावित हुए। उन्होंने व्यसन छोड़ने का आश्वासन दिया। वहाँ सेवा में तैनात पुलिस- सेना के जवानों पर युगऋषि की प्रेरणाओं का विशेष रूप से प्रभाव पड़ा।


Write Your Comments Here:


img

आओ गढ़े संस्कारवान पीढ़ी- जन-जागरूकता कार्यक्रम

दिनांक 17 नवंबर को बिधूना, उत्तर प्रदेश, में 24 कुंडीय गायत्री यज्ञ के चौथे दिन आयोजित भव्य दीपयज्ञ में आओ गढ़े संस्कारवान पीढ़ी पर व्याख्यान हुआ । शशिप्रभा दीदी और भाईयो ने कार्यक्रम को सफल बनाने में.....

img

आओ गढ़े संस्कारवान पीढ़ी-प्रशिक्षण एवं जन-जागरूकता

16 नवंबर 19  अमरावती ,महाराष्ट्र में कार्यकर्ता प्रशिक्षण हुआ। जिसमे गर्भ विज्ञान को समझाया गया। आकोला की dr मधु अग्रवाल ने आहार, उनकी सहकारी बहन ने संवाद ,नागपुर की अंजली लालवानी ने दिनचर्या विषय पर मार्गदर्शन किया।कार्यक्रम में आंगनवाड़ी की.....