Published on 2018-09-26
img

अमरनाथ। जम्मू- कश्मीर

सुप्रसिद्ध तीर्थ अमरनाथ की यात्रा के दिनों में पवित्र गुफा के निकट बुढलाडा, शाहकोट, मानसा, दिल्ली, राजौरी गार्डन तथा अमृतसर के श्रद्धालु हर वर्ष भण्डारे चलाते हैं। पश्चिमोत्तर ज़ोन, शांतिकुंज और लुधियाना (पंजाब) शाखा के प्रतिनिधि भी उन दिनों वहाँ पहुँचते हैं और सभी भंडारों में जाकर परम पूज्य पं. श्रीराम शर्मा शर्मा आचार्य के विचारों को श्रद्धालुओं तक पहुँचाते हैं।

इस वर्ष शांतिकुंज से श्री विजय रावत, श्री शोकेन्द्राचार्य एवं सुरेंद्र जी अमरनाथ पहुँचे। उन्होंने भण्डारों में जाकर यज्ञ- दीपयज्ञ किये। श्रद्धालुओं और सेवा- सुरक्षा में तैनात पुलिस, सेना के जवान तथा पुरोहितों से व्यक्तिगत संपर्क किया। उन्हें भगवान शिव का तत्त्वदर्शन समझाया। शिवभक्ति के नाम पर नशाखोरी, असहिष्णुता जैसी आदतों को अविवेकपूर्ण बताया। तीर्थ को स्वच्छ रखने के लिए स्वच्छता अभियान भी चलाया।
अनेक लोग प्रभावित हुए। उन्होंने व्यसन छोड़ने का आश्वासन दिया। वहाँ सेवा में तैनात पुलिस- सेना के जवानों पर युगऋषि की प्रेरणाओं का विशेष रूप से प्रभाव पड़ा।


Write Your Comments Here:


img

ऑनलाइन पुंसवन संस्कार

दिनांक ०३.०८.२०२० को शिकागो, USA निवासी श्रीमती प्रज्ञा व् श्री अविनाश का पुंसवन संस्कार शांतिकुंज हरिद्वार द्वार          डा. गायत्री शर्मा व् उनकी टीम द्वारा कराया गया ......

img

प्राणायाम का वैज्ञानिक प्रभाव

दिनांक ३०.०७.२०२० को डाक्टर सी. पी. त्रिपाठी जी, ऋषिकेश  द्वारा डाक्टरों और गायत्री परिवार के कार्यकर्ताओं हेतु आयोजित वेबिनार  को संबोधित करती हुई डाक्टर गायत्री शर्मा, शांतिकुंज हरिद्वार |.....

img

प्राणायाम का वैज्ञानिक प्रभाव

दिनांक ३०.०७.२०२० को डाक्टर सी. पी. त्रिपाठी जी, ऋषिकेश द्वारा डाक्टरों और गायत्री परिवार के कार्यकर्ताओं हेतु आयोजित वेबिनार को संबोधित करती हुई डाक्टर गायत्री शर्मा, शांतिकुंज हरिद्वार.....