Published on 2018-10-13 UJJAIN

प्रादेशिक स्तर पर आन्दोलनों को गति देने के प्रयास हुए

देश के विकास के मजबूत स्तम्भ युवाओं को जाग्रत, विकसित व सक्रिय कर उनकी प्रतिभाओं को  सृजन में नियोजित करने के उद्देश्य से  गायत्री शक्तिपीठ, उज्जैन द्वारा 15, 16 सितम्बर को युवा सम्मेलन आयोजित किया गया। इसमें बड़े उत्साह के साथ सैकड़ों युवाओं ने भाग लिया। सम्मेलन को शांतिकुंज प्रतिनिधि श्री आशीष सिंह, भारतीय वायु सेना में कार्यरत श्री मंजीत सिंह, मध्यजोन भोपाल के श्री नारायण प्रसाद शर्मा, डी.आई.जी. उज्जैन श्री रमन सिंह सिकरवार, मध्यप्रदेश युवा आंदोलन के श्री विवेक चौधरी, उज्जैन उपझोन समन्वयक श्री राकेश कुमार गुप्ता व श्री सतीश शर्मा ने संबोधित किया।

श्री आशीष सिंह सहित सभी वक्ताओं ने युवाओं से नशा से बचने, अपनी प्रतिभाओं को निखारने और उनका सदुपयोग देश व मानव के विकास हेतु करने पर ज़ोर दिया।

श्री विवेक चौधरी ने प्रदेश में अत्यंत लोकप्रिय हो रही ‘गृहे-गृहे यज्ञ अभियान’ योजना और पाक्षिक प्रज्ञा अभियान के माध्यम से युग चेतना को घर-घर पहुँचाकर मिशन का कई गुना विस्तार करने की प्रेरणा दी।

श्री भास्कर तिवारी जबलपुर की टोली ने युग गायन से युवाओं में जोश भरा। शिविर की सफलता में श्री रामेश्वर पटेल, श्री दिलीप नागदिया, बाबूलाल बडोलिया और प्रकाश जी का सराहनीय योगदान दिया। संचालन डॉ.शशिकांत शास्त्री ने किया, नागदा की श्रीमती ममता बैरागी ने आभार प्रकट किया।

चेन्नई के विद्यालयों में भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा का विस्तारचेन्नई, तमिलनाडुस्थानीय शाखा द्वारा डीजी वैष्णव कॉलेज, अंरुम्बक्कम में व्यक्तित्व विकास पर कार्यशाला आयोजित की, जिसे शांतिकुंज प्रतिनिधि श्री वीरेन्द्र तिवारी, श्री सूरत सिंह अमृते व बिट्स पिलानी के इंजीनियर माधुरी नाडिग ने संबोधित किया। इसमें 500 विद्यार्थियों एवं शिक्षकों ने भाग लिया।

कार्यशाला में तनाव प्रबन्धन हेतु उपयोगी ध्यान-धारणा एवं व्यक्तित्व परिष्कार के लिए चिन्तन-मनन की विधि बताई। केन्द्रीय प्रतिनिधियों ने कहा कि यही वह अवलम्बन है जिसे अपनाकर जीवन को सुख-शांतिमय बनाया जा सकता है। उन्होंने भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा की जानकारी दी, सभी विद्यालयों में आरंभ कराने का आह्वान किया।

 इस कार्यशाला के आयोजन में कॉलेज के सचिव अशोक कमार मुँदड़ा, प्रिंसिपल डॉ. आर. गणेशन, अर्थशास्त्र की विभागाध्यक्ष टी. एच. प्रेमा व सार्थियों ने भरपुर सहयोग किया।


Write Your Comments Here:


img

युग निर्माण हेतु भावी पीढ़ी में सुसंस्कारों की आवश्यकता जिसकी आधारशिला है भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा -शांतिकुंज प्रतिनिधि आ.रामयश तिवारी जी

वाराणसी व मऊ उपजोन की *संगोष्ठी गायत्री शक्तिपीठ,लंका,वाराणसी के पावन प्रांगण में संपन्न* हुई।जहां ज्ञान गंगा की गंगोत्री,*महाकाल का घोंसला,मानव गढ़ने की टकसाल एवं हम सभी के प्राण का केंद्र अखिल विश्व गायत्री परिवार शांतिकुंज,हरिद्वार* से पधारे युगऋषि के अग्रज.....

img

Yoga Day celebration

Yoga day celebration in Dharampur taluka district ValsadGaytri pariwar Dharampur.....

img

गर्भवती महिलाओं की हुई गोद भराई और पुंसवन संस्कार

*वाराणसी* । गर्भवती महिलाओं व भावी संतान को स्वस्थ व संस्कारवान बनाने के उद्देश्य से भारत विकास परिषद व *गायत्री शक्तिपीठ नगवां लंका वाराणसी* के सहयोग से पुंसवन संस्कार एवं गोद भराई कार्यक्रम संपन्न हुआ। बड़ी पियरी स्थित.....