Published on 2018-10-24 HARDWAR

हरिद्वार, २४ अक्टूबर।

भारतीय वायुसेना के 'दिशा' कार्यक्रम के अंतर्गत देव संस्कृति विश्वविद्यालय में एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन हुआ। कार्यशाला सैद्धांतिक व व्यावहारिक दो चरण में सम्पन्न हुआ।

प्रथम चरण में भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर श्री गोयल तथा स्कुएड्रेन लीडर अनुपम कुमार ने भारतीय वायुसेना के इतिहास तथा उसकी क्षमता के बारे में विद्यार्थियों को विस्तार से जानकारी दी। वायु सेना के अधिकारियों ने युवाओं में वायुसेना के प्रति जागरूकता एवं भविष्य में खुलने वाले तमाम अवसरों के बारे में विस्तारपूर्वक बताया। उन्होंने बताया कि युवा यू.पी.एस.सी., एन.डी.ए., एन.सी.सी.के साथ-साथ इंजीनियरिंग शाखाओं आदि के माध्यम से भारतीय वायुसेना से जुड़ सकते है। वायुसेना में पायलट के साथ-साथ ग्राउंड डयूटी, प्रशासनिक, लेखा विभाग में भी तमाम अवसर युवाओं के लिए उपलब्ध है। इस अवसर पर विद्यार्थियों के विविध जिज्ञासाओं का समाधान किया।

दूसरे चरण में विद्यार्थियों ने वायुसेना से जुड़ी अपनी शंकाओं एवं जिज्ञासाओं का समाधान वायुसेना के अधिकारियों से प्राप्त किया। विद्यार्थियों की जिज्ञासाओं को शांत करते हुए एवं उन्हें प्रोत्साहित करने के लिए वायुसेना के कार्यक्रम दिशा के अंतर्गत विद्यार्थियों को विभिन्न लड़ाकू विमान की कार्य प्रणाली, पायलट के कर्तव्य तथा उनकी वर्दी तथा अन्य तकनीकी के बारे में बताया। देसंविवि के युवाओं के लगन, मेहनत, तर्क शक्ति का प्रशंसा करते हुए सेना के अधिकारियों ने इसे विकसित राष्ट्र भारत के लिए महत्त्वपूर्ण बताया। कहा कि जिस तरह देसंविवि में युवाओं को तैयार किया जा रहा है, इसके लिए केवल विद्यार्थी ही नहीं, बल्कि यहाँ के पूरा प्रशासन बधाई के पात्र हैं। सेना के अधिकारियों ने सवाल-जवाब प्रतियोगिता में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले विद्यार्थियों को प्रमाण पत्र तथा पुरस्कार देकर सम्मानित किया।


Write Your Comments Here:


img

गायत्री परिवार प्रमुखद्वय से मार्गदर्शन ले गंगा सेवा मंडल प्रशिक्षण टोली रवाना

हरिद्वार १४ नवंबर।अखिल विश्व गायत्री परिवार द्वारा संचालित निर्मल गंगा जन अभियान के अंतर्गत संगठित गंगा सेवा मंडलों के प्रशिक्षण हेतु बुधवार को पांच सदस्यीय एक टोली शांतिकुंज से रवाना हुई। ये टोली बिजनौर से लेकर उन्नाव तक के शहरों.....

img

देसंविवि में शौर्य दीवार का हुआ अनावरण

संस्कृति के नायकों व राष्ट्र भक्तों के कारण भारत अक्षुण्ण ः राज्यपालयुवा पीढ़ी के लिए एक नई आजादी की आवश्यकता ः डॉ. पण्ड्याहरिद्वार 10 नवंबर।देवभूमि के राज्यपाल श्रीमती बेबी रानी मौर्य ने कहा कि विश्व भर में सेना के अदम्य.....

img

गायत्री विद्यापीठ के बच्चों ने फटाखा व चीनी वस्तुओं के विरोध में निकाली रैली

शांतिकुंज व देसंविवि ने हर्षाेल्लास से मनाई धन्वन्तरि जयंतीपटाखा नहीं छोड़ने एवं प्रदूषणमुक्त दिवाली मनाने का लिया संकल्पहरिद्वार 5 नवंबर।देवसंस्कृति विश्वविद्यालय स्थित फार्मेसी एवं शांतिकुंज के मुख्य सभागार में आयुर्वेद के प्रवर्तक भगवान धन्वन्तरि की जयंती आयुर्वेद के विकास में.....