Published on 2018-11-24 HARDWAR


गायत्री परिवार प्रमुखद्वय ने वैदिक मंत्रोच्चारण के साथ किया पूजन

हरिद्वार 24 नवंबर।देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में वर्ष 2021 में अश्वमेध गायत्री महायज्ञ का आयोजन होगा। यज्ञ हेतु कलश पूजन, तैयारी एवं समीक्षा बैठक गायत्री तीर्थ शांतिकुंज में शनिवार को सम्पन्न हुई। इसके लिए मायानगरी मुंबई से यज्ञ संचालकों की टीम गायत्री तीर्थ पहुँची है। यहाँ गायत्री परिवार प्रमुखद्वय श्रद्धेय डॉ. प्रणव पण्ड्या जी व श्रद्धेया शैलदीदी ने वैदिक मंत्रोच्चार के साथ विधिवत् पूजन किया।

                इस अवसर पर गायत्री परिवार प्रमुख डॉ. प्रणव पण्ड्या ने कहा कि आर्थिक राजधानी में अश्वमेध महायज्ञ के माध्यम से मुंबईवासियों में अध्यात्म का बीज रोपित किया जायेगा। जिससे लोगों में वैचारिक बदलाव हो और सभी मिलजुलकर भारत को विश्वगुरु की आसंदी में पहुँचाने में सहयोग करें। उन्होंने कहा कि इन दिनों विश्व भर के लोग गायत्री परिवार की ओर आशा भरी दृष्टि देख रहे हैं। समाज में वैचारिक बदलाव गायत्री परिवार द्वारा आयोजित कार्यक्रमों से ही संभव है। इसी उद्देश्य से आर्थिक राजधानी मुंबई में वर्ष 2021 में अश्वमेध गायत्री महायज्ञ का भव्य आयोजन होगा। यह आयोजन मुंबईवासियों में सेवा, सहकार एवं सहयोग की प्रवृत्ति की ओर कदम बढ़ाने के लिए प्रेरित करेगा, ऐसा विश्वास है। डॉ पण्ड्या ने कहा कि स्थूल वातावरण को भौतिक चीजों से बदल सकते हैं, पर सूक्ष्म वातावरण को सामूहिक जप, सामूहिक अनुष्ठान से ही बदला जा सकता है। इसके लिए लाखों-करोड़ों गायत्री परिवार जुटे है। डॉ. पण्ड्या ने कहा कि शक्ति कलश यात्रा के माध्यम से मुंबई के कोने-कोने में बसे कलाकारों, प्रबुद्ध वर्ग से लेकर समस्त लोगों को आमंत्रित करें। श्रद्धेया शैलदीदी ने कहा कि विचार के सकारात्मकबदलाव से परिवार, समाज व राष्ट्र का निर्माण हो सकता है। शैलदीदी ने अश्वमेध महायज्ञ की सफलता हेतु सामूहिक जप करने की सलाह दी।

                इसके पश्चात् गायत्री परिवार प्रमुखद्वय ने वैदिक मंत्रोच्चार के बीच शक्ति कलश अश्वमेध महायज्ञ समिति को सौंप दिया। जिसे युगऋषि के पावन समाधि के निकट रखकर महायज्ञ की सफलता हेतु प्रार्थना की गयी। इस अवसर पर शांतिकुंज व्यवस्थापक श्री शिवप्रसाद मिश्र, देसंविवि के कुलपति श्री शरद पारधी, कैलाश महाजन, महायज्ञ समिति के वरिष्ठ प्रतिनिधि मनुभाई पटेल आदि सहित मुंबई अश्वमेध महायज्ञ से जुड़े चार सौ से अधिक परिजन उपस्थित रहे।


Write Your Comments Here:


img

गुरु पूर्णिमा पर्व प्रयाज

गुरु पूर्णिमा पर्व पर online वेब स्वाध्याय के  कार्यक्रम इस प्रकार रहेंगे समस्त कार्यक्रम freeconferencecall  मोबाइल app से होंगे ID : webwsadhyay रहेगा 1 गुरुवार  ७ जुलाई २०२२ : कर्मकांड भास्कर से गुरु पूर्णिमा.....

img

ऑनलाइन योग सप्ताह आयोजन द्वादश योग :गायत्री योग

परम पूज्य गुरुदेव द्वारा लिखित पुस्तक  गायत्री योग, जिसके अंतर्गत द्वादश योग की चर्चा की गई है, का ऑनलाइन वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से पांच दिवसीय कार्यक्रम आयोजित किया गया| इस कार्यक्रम में विशेष आकर्षण वीडियो कांफ्रेंस.....

img

गृह मंत्री अमित शाह बोले- वर्तमान एजुकेशन सिस्टम हमें बौद्धिक विकास दे सकता है, पर आध्यात्मिक शांति नहीं दे सकता

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि हम उन गतिविधियों का समर्थन करते हैं जो हमारे देश की संस्कृति और सनातन धर्म को प्रोत्साहित करती हैं। पिछले 50 वर्षों की अवधि में, हम हम सुधारेंगे तो युग बदलेगा वाक्य.....