Published on 2018-12-02 HARDWAR

कौशाम्बी: अखिल विश्व गायत्री परिवार शांतिकुंज हरिद्वार के तत्वावधान में नशा मुक्त भारत अभियान रथ का कौशाम्बी जिले में आगमन 30 नवंबर को हुआ है। यह रथ वीडियो फिल्मों के माध्यम से युवाओं को व्यसनमुक्ति का संकल्प दिलाने एवं जागरूक करने हेतु देशभर में भ्रमण कर रहा है। शुक्रवार को यह रथ का आगमन भरवारी नगर में प्रातः 09 बजे हुआ। जहां विभिन्न विद्यालयों में छात्र-छात्राओं को व्यसन से सम्बंधित जागरूक किया गया साथ ही साथ उन्हें शॉर्ट फिल्म के माध्यम से शराब, तम्बाकू समेत अन्य व्यसनों के दुष्प्रभावों को समझाया गया और व्यसन से दूर रहने हेतु संकल्प दिलाया गया।

राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी के १५०वीं जन्म जयंती से प्रारंभ होने वाले व्यसन मुक्त स्वर्णिम भारत रथ यात्रा का शुभारंभ हुआ। इसके लिए शांतिकुंज से आठ राज्यों के लिए चार रथों को अखिल विश्व गायत्री परिवार प्रमुख डॉ. प्रणव पण्ड्या ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। पहला रथ नागपुर, दूसरा रथ सुल्तानपुर, तीसरा रथ मोतीहारी और चौथा रथ रेवाड़ी से प्रारंभ हुआ।


इस अवसर पर गायत्री परिवार कौशाम्बी से सुरेश चंद्र जी ने कहा कि व्यसन विनाश का जड़ है। ईश्वर ने मनुष्य को अनेक दुर्लभ विभूतियाँ प्रदान की है। जिससे वे मनुष्यता का कर्तव्य निभा सके। उन्होंने कहा कि प्रकृति का मुकुटमणि मनुष्य दुर्बुद्धि के कुचक्र में फंस कर अपनी दुर्लभ क्षमताओं को व्यसन, नशे में बर्बाद कर रहा है। यही समझदारों की नासमझी है। छोटे बच्चों से लेकर उच्च विद्यालय, महाविद्यालय में अध्ययनरत देश के भविष्य युवा आज नशे के चपेट में है। जिससे उनके परिवार के साथ समाज का आर्थिक हानि हो रही है। गायत्री परिवार इस रथ के माध्यम से युवापीढ़ी सहित सभी वर्ग के लोगों को व्यसन से मुक्त रहने के लिए प्रेरित करेगा।


Write Your Comments Here:


img

अर्जित ज्ञान का सदुपयोग मानवता की भलाई के लिए होना चाहिए

पीएच.डी. की उपाधि प्राप्त कर रहे स्नातकों को देव संस्कृति विश्वविद्यालय के प्रतिकुलपति जी का संदेशवर्धा। महाराष्ट्र : देव संस्कृति विश्वविद्यालय, हरिद्वार के प्रतिकुलपति आदरणीय डॉ. चिन्मय पण्ड्या जी 14 जनवरी 2023 को वर्धा में जय महाकाली शिक्षण संस्था, अग्निहोत्री ग्रुप अॉफ इंस्टीट्यूशंस द्वारा आयोजित.....

img

दिल्ली में मंत्री, सांसद एवं गणमान्यों से भेंट

देव संस्कृति विश्वविद्यालय के प्रतिकुलपति आदरणीय डॉ. चिन्मय जी दिनांक 5 जनवरी 2023 को दिल्ली पहुँचे। वहाँ उन्होंने भारत सरकार के अनेक मंत्री एवं सांसदों से भेंट की। उनके साथ वर्तमान सामाजिक परिस्थितियों के संदर्भ में चर्चा हुई, उन्हें परम पूज्य गुरूदेव के संकल्प,.....

img

गुजरात के राज्यपाल से प्राकृतिक खेती को बढ़ावा देने पर चर्चा हुई

13 जनवरी 2023 को अपने गुजरात प्रवास में आदरणीय डॉ. चिन्मय पण्ड्या जी गाँधीनगर स्थित राजभवन में राज्यपाल माननीय आचार्य देवव्रत जी से भेंट करने पहुँचे। शान्तिकुञ्ज की ओर से उन्हें पूज्य गुरूदेव का साहित्य भेंट किया। इस अवसर पर माननीय राज्यपाल जी से प्राकृतिक कृषि को बढ़ावा.....