Published on 2018-12-08 HARDWAR

उत्तराखंड का एकमात्र छात्र देवस्य को मिला उत्कृष्टता पुरस्कार, श्रद्धेया शैलदीदी ने दिया आशीर्वाद 
हरिद्वार 8 दिसम्बर।

देश के प्रतिष्ठित चैम्पियनशिप आईटी ओलम्पियाड में गायत्री विद्यापीठ शांतिकुंज ने ओवरऑल 8वाँ स्थान प्राप्त कर हरिद्वार के साथ ही देवभूमि उत्तराखण्ड का नाम रोशन किया है। इस प्रतियोगिता में देश के 160 व अफगानिस्तान के 9 स्कूलों के 70 हजार से अधिक विद्यार्थियों ने प्रतिभाग किया था। इसमें गायत्री विद्यापीठ के कक्षा-8 का छात्र देवस्य देसाई को 11वाँ स्थान प्राप्त किया। उल्लेखनीय है कि आईटी ओलम्पियाड में गायत्री विद्यापीठ ने पहली बार भाग लिया था। आईटी ओलम्पियाड का उत्कृष्टता पुरस्कार समारोह 8 दिसम्बर को पुणे (महाराष्ट्र) में सम्मन्न हुआ।

                उत्कृष्टता पुरस्कार समारोह से लौटने के बाद संस्था की अधिष्ठात्री शैलदीदी से भेंटकर देवस्य देसाई ने आशीर्वाद लिया। इस दौरान श्रद्धेया शैलदीदी ने विद्यापीठ में विद्यार्थियों के चहुंमुखी विकास की दिशा में चलाये जा रहे विविध कार्यक्रमों के बारे बताया। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों के विकास के लिए विद्यापीठ में पढ़ाई के साथ-साथ अनेक कार्यक्रम चलाये जाते हैं। इसी का परिणाम है कि यहाँ के बच्चे आशातीत सफलता प्राप्त करते हैं।

                आईटी ओलम्पियाड-2018 दो श्रेणी- कब व लायंस में हुआ था। इन दोनों वर्ग में भारत व अफगानिस्तान के 169 स्कूलोंं के 70 हजार से अधिक विद्यार्थियों ने ऑन लाइन परीक्षा में भाग लिया था। इस प्रतियोगिता के कब श्रेणी में उत्तराखण्ड का एकमात्र छात्र देवस्य देसाई को उत्कृष्टता समारोह के लिए चुना गया। जिन्हें पुणे में आयोजित आईटी ओलम्पियाड उत्कृष्टता समारोह-2018 में एंड्राइट टैब, एक्सीलेंसी अवार्ड, प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया। शांतिकुंज कार्यकर्त्ता कीर्तन देसाई व पद्मा देसाई के पुत्र देवस्य देसाई को क्वीक हील के सीईओ डॉ. कैलाश कटकर, आईटी ओलम्पियाड के निदेशक प्रो. ऋषि आचार्य, सीईओ सीआईटीआईएस के हर्षद सांगले, एमसीई सोसायटी के अध्यक्ष डॉ.पीए ईमानदार ने संयुक्त रूप से सम्मानित किया। देसंविवि के प्रतिकुलपति डॉ. चिन्मय पण्ड्या, व्यवस्थापक श्री शिवप्रसाद मिश्र, वेदमाता गायत्री ट्रस्ट के ट्रस्टी हरीशभाई ठक्कर जी, विद्यापीठ के चेयरपर्सन श्रीमती शेफाली पण्ड्या, प्रधानाचार्य श्री सीताराम सिन्हा आदि ने देवस्य को बधाई दी।


Write Your Comments Here:


img

अर्जित ज्ञान का सदुपयोग मानवता की भलाई के लिए होना चाहिए

पीएच.डी. की उपाधि प्राप्त कर रहे स्नातकों को देव संस्कृति विश्वविद्यालय के प्रतिकुलपति जी का संदेशवर्धा। महाराष्ट्र : देव संस्कृति विश्वविद्यालय, हरिद्वार के प्रतिकुलपति आदरणीय डॉ. चिन्मय पण्ड्या जी 14 जनवरी 2023 को वर्धा में जय महाकाली शिक्षण संस्था, अग्निहोत्री ग्रुप अॉफ इंस्टीट्यूशंस द्वारा आयोजित.....

img

दिल्ली में मंत्री, सांसद एवं गणमान्यों से भेंट

देव संस्कृति विश्वविद्यालय के प्रतिकुलपति आदरणीय डॉ. चिन्मय जी दिनांक 5 जनवरी 2023 को दिल्ली पहुँचे। वहाँ उन्होंने भारत सरकार के अनेक मंत्री एवं सांसदों से भेंट की। उनके साथ वर्तमान सामाजिक परिस्थितियों के संदर्भ में चर्चा हुई, उन्हें परम पूज्य गुरूदेव के संकल्प,.....

img

गुजरात के राज्यपाल से प्राकृतिक खेती को बढ़ावा देने पर चर्चा हुई

13 जनवरी 2023 को अपने गुजरात प्रवास में आदरणीय डॉ. चिन्मय पण्ड्या जी गाँधीनगर स्थित राजभवन में राज्यपाल माननीय आचार्य देवव्रत जी से भेंट करने पहुँचे। शान्तिकुञ्ज की ओर से उन्हें पूज्य गुरूदेव का साहित्य भेंट किया। इस अवसर पर माननीय राज्यपाल जी से प्राकृतिक कृषि को बढ़ावा.....