Published on 2019-02-05 HARDWAR

जीवन खेल का आधार ः डॉ. पण्ड्या
खेल को खेल भावना से ही खेलें ः शैलदीदी
कबड्डी, खो-खो, दौड़ सहित सात तरह के होंगे खेल
 हरिद्वार 5 फरवरी।

मंगलवार की पहली किरण गायत्री तीर्थ शांतिकुंज के साधकों के लिए उत्साह, उमंग एवं स्फूर्ति लेकर आया। अवसर था शांतिकुंज में होने वाले चतुर्थ खेल महोत्सव की शुरुआत। महोत्सव का शुभारंभ अखिल विश्व गायत्री परिवार प्रमुखद्वय डॉ. प्रणव पण्ड्या एवं शैलदीदी ने दीप प्रज्वलन कर किया। प्रमुखद्वय ने खिलाड़ियों को खेल के अनुशासन का पालन करने की शपथ दिलाई।
                इस अवसर पर गायत्री परिवार प्रमुख डॉ. प्रणव पण्ड्या ने कहा कि यह उत्सव वासन्ती उल्लास के साथ जीवन में नव उत्साह उमंग भर देने के लिए आयोजित हो रहा है। इसमें सभी कार्यकर्त्ता भाग लें और जीवन को उत्सवमय बनाएँ। उन्होंने कहा कि जीवन खेल का आधार है। जीवन एक खेल है, उसे खेल की तरह जीना चाहिए। श्रद्धेया शैलदीदी ने कहा कि खेल को खेल भावना से खेलें। इस उत्सव के मनोहर रंग को जीवन में गहरे तक रंग देने की प्रेरणा दी। उन्होंने युवाओं की परिभाषा बताते हुए कहा कि जिसके मन में सदा उत्साह उमंग और आशा उल्लास भरा रहे, वह युवा है। जो काम करने में सदा उत्सुक और सक्रिय रहते हैं, वे युवा हैं। इस अवसर पर शैलदीदी ने पूर्व राष्ट्रपति वैज्ञानिक डॉ. अब्दुल कलाम को भी याद किया।
                पश्चात् खेल महोत्सव की शुरुआत श्रद्धेया शैलदीदी ने सिक्का उछाल कर किया। रस्साकस्सी का प्रदर्शनी मैच में डॉ. पण्ड्या की टीम विजयी रही। तो वहीं बॉलीवॉल के प्रदर्शनी मैच ने प्रौढ़ों में भी उत्साह भर दिया। रस्साकस्सी, बॉलीबॉल की सीनियर टीम में डॉ. प्रणव पण्ड्या, व्यवस्थापक श्री शिवप्रसाद मिश्र, श्री वीरेश्वर उपाध्याय, श्री कपिल केसरी, श्री हरीश ठक्कर, डॉ. ओपी शर्मा सहित शांतिकुंज के 60 से अधिक के वसंत देख चुके कार्यकर्ता शामिल रहे। राष्ट्रीय स्तर पर योग में परचम फहराने वाले गायत्री विद्यापीठ के विद्यार्थियों ने योग के विभिन्न आसनों का प्रदर्शन किया। आयोजक मंडल के अनुसार खेल महोत्सव में दो ग्रुप बनाया है, पहला ग्रुप ३५ वर्ष से कम तथा दूसरा ग्रुप ३५ वर्ष से अधिक का। तीन दिन चलने वाले महोत्सव में कबड्डी, खो-खो, दौड़, रस्साकस्सी, वॉलीबाल, लम्बी कूद, गोला फेंक में शांतिकुंज के अंतेवासी कार्यकर्त्तागण अपना हुनर दिखायेंगे। इस दौरान ६० वर्ष के अधिक आयु के खिलाड़ियों का भी विशेष आयोजन होंगे।


Write Your Comments Here:


img

पूरे विश्व में 2,40,000 घरों में एक दिन, एक साथ विभिन्न स्थानों पर सामूहिक एक कुण्डीय यज्ञो का आयोजन

दिनांक-  02 जून 2019लक्ष्य-    (1)  सम्पूर्ण विश्व मे एक साथ- एक समय 2,40,000 घरों में यज्ञ - उपासनाउद्देश्य-     (1)  घर-घर गायत्री महाविद्या का तत्वदर्शन पहुँचाना, देव  स्थापना एवं नियमित उपासना।   (2)  अखण्ड ज्योति/प्रज्ञा पाक्षिक के पाठक/ ग्राहकों में वृद्धि .....

img

देवसंस्कृति विश्वविद्यालय के 17वें वार्षिकोत्सव का पुरस्कार वितरण एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम

प्राची एवं शाहनाजी दौड़ में रहे अव्वलकुलाधिपति ने विजयी खिलाड़ियों को किया पुरस्कृतसेवन स्टोन, कबड्डी, लंबी कूद, टीटी, जूडो आदि खेलों में खिलाड़ियों ने दिखाया दमखमहरिद्वार 19 मार्च।देवसंस्कृति विश्वविद्यालय के 17वें वार्षिकोत्सव का पुरस्कार वितरण एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम के साथ.....

img

देसंविवि में कुलपताका फहराने के साथ उत्सव-19 का हुआ शुभारंभ

उत्सव वह जो अपने अंदर उल्लास भर दे - श्रद्धेय डॉ. पण्ड्याहरिद्वार 17 मार्च।देवसंस्कृति विवि के कुलाधिपति डॉ. प्रणव पण्ड्या ने विश्वविद्यालय की कुलपताका फहराकर 17 वें वार्षिकोत्सव का शुभारंभ किया। इस अवसर पर डॉ. पण्ड्या ने तीन दिवसीय उत्सव-19.....