Published on 2019-05-04

अखिल विश्व गायत्री परिवार कानपुर द्वारा दिनाँक 4-05-19 को आओ गढे़ संस्कारवान पीढ़ी के अन्तर्गत शुक्लागंज शक्तिपीठ मे दिव्य गर्भोत्सव कार्यशाला का आयोजन किया गया ।
स्त्री एवं प्रसूति रोग विशेषज्ञ डा. संगीता सारस्वत ने पी.पी.टी. के माध्यम से बताया कि कैसे साकारात्मक वातावरण से शारीरिक,मानसिक एवं आध्यात्मिक रुप से संतुलित संतान प्राप्त की जा सकती है एवं गर्भणी द्वारा अपनाई जाने वाली आदर्श दिनचर्या की जानकारी दी।
डा.शिखा अग्रवाल ने गर्भस्थ शिशु के साथ स्थापित किये जाने वाले संवाद के प्रकार एवं माध्यमो को भजन एवं गीतो के द्वारा बड़े रोचक ढ़ग से प्रस्तुत किया ।
लखन ऊ से पधारी श्रीमती अर्चनावर्मा  गर्भावस्था मे किये जाने वाले योग,आसन, प्राणायाम से होने वाले लाभ को बताया ।उन्होने संधि संचालन का क्रमानुसार वर्णन किया और बहन श्वेताम्बरा ने सजीव प्रस्तुतिकरण किया । वहाँ उपस्थित सभी ने उनके इस प्रस्तुतिकरण की मुक्त कंठ से प्रशंसा की ।
श्रीमती आराधना पूठिया नेगर्भावस्था मे आहार के महत्तव को बताते हुए कहा कि इसदौरान गर्भणी को सात्विक,पौष्टिक,एवं संतुलित आहार लेना चाहिए ।
श्रीमती मधु गुप्ता, किरन पटेल आदि बहनो ने यज्ञ के माध्यम से आठ(8)  गर्भवती बहनो का संस्कार संम्पन्न करवाया ।
उपजोन प्रमुख आदरणीय आर. सी. गुप्ता भाईसाहब ने स्थान के महत्व को बताते हुए कहा जिस प्रकार तीर्थ स्थानो मे किए गये संस्कारो मे महुर्त नही देखा जाता है ठीक उसी प्रकार शक्तिपीठ मे कराए गये संस्कार ज्यादा प्रभावी होते है
शक्तिपीठ व्यवस्थापक आद. आर. सी. गुप्ताऋ भाईसाहब के  अथक प्रयास के फलस्वरुप बडे़ ही दिव्य एवं उल्लासपूर्ण वातावरण मे  कार्यक्रम संमपन्न हुआ ।


Write Your Comments Here:


img

anganwadi स्कूल मैं जाके गायत्री मंत्र और गायत्री माँ के चम्त्कार् के बारे मैं बताया

मैं यशवीन् मैंने आज राजस्थान के barmer के बालोतरा मैं anganwadi स्कूल मैं जाके गायत्री माँ के बारे मैं बच्चों को जागरूक किया और वेद माता के कुछ बातें बताई और महा मंत्र गायत्री का जाप कराया जिसे आने वाले.....

img

युग निर्माण हेतु भावी पीढ़ी में सुसंस्कारों की आवश्यकता जिसकी आधारशिला है भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा -शांतिकुंज प्रतिनिधि आ.रामयश तिवारी जी

वाराणसी व मऊ उपजोन की *संगोष्ठी गायत्री शक्तिपीठ,लंका,वाराणसी के पावन प्रांगण में संपन्न* हुई।जहां ज्ञान गंगा की गंगोत्री,*महाकाल का घोंसला,मानव गढ़ने की टकसाल एवं हम सभी के प्राण का केंद्र अखिल विश्व गायत्री परिवार शांतिकुंज,हरिद्वार* से पधारे युगऋषि के अग्रज.....

img

Yoga Day celebration

Yoga day celebration in Dharampur taluka district ValsadGaytri pariwar Dharampur.....