Published on 2019-05-24

दिनांक १८/०५/२०१९ हिंडन नदी स्थित गायत्री शक्तिपीठ में गाजियाबाद में   २ घंटे का कार्य शाला डेढ़ सौ आशाओं तथा आंगनवाड़ी एवं गायत्री परिवार के मध्य संपन्न हुआ। दीप प्रज्वलन तथा 'आओ गढ़े संस्कारवान पीढ़ी ' कार्यालय का उद्घाटन शांतिकुंज के वरिष्ठ प्रतिनिधि आदरणीय डॉ आे.पी. शर्मा, डॉ गायत्री शर्मा, यशोदा हॉस्पिटल की डॉ पूर्णिमा वाजपाई, pediatrition, उ.प्र. हेल्थ सेंटर, doctor एस. एस. गहलोत,  एडवोकेट अरविंद शर्मा,सुशील उपाध्याय, अम्बा स्टील में मार्केटिंग मैनेजर - अलोक तिवारी उपस्थित थें। doctor एस. एस. गहलोत  का उद्बोधन आशा कार्यक्रम की धुरी है। Community ewm चिकित्सा विभाग की कड़ी है।
    आदरणीय डॉ ओ.पी. शर्मा जी ने शांतिकुंज का परिचय दिया तथा संस्कारों का महत्व बताया। डॉ गायत्री शर्मा दीदी ने   'आओ गढ़े संस्कारवान पीढ़ी' विषय के माध्यम से आशा कार्यकर्त्रियों को बताया कि आप गर्भवती एवं शिशु के शारीरिक स्वास्थ्य की ओर ध्यान देती है किन्तु गायत्री परिवार के सहयोग से आप लोग उनके शारीरिक स्वास्थ्य के साथ साथ मानसिक, भावनात्मक तथा  नैतिक विकास  की ओर ध्यान दिया का सकता है।
आदरणीय डॉ गायत्री शर्मा ने कार्यकर्ताओं की गोष्ठी ली तथा इस कार्यक्रम की कार्ययोजना पर चर्चा हुई और इसे व्यापक कैसे बनाए मार्गदर्शन दिया। गाजियाबाद पु,पश्चिम,उत्तर, दक्षिण एवं मध्य से इन पांच जगह से पांच टीम बनाई गई।


Write Your Comments Here:


img

गुण, कर्म, स्वभाव का परिष्कार करने वाली विद्या को प्रोत्साहन मिले। श्रद्धेय डॉ. प्रणव जी

देव संस्कृति विश्वविद्यालय का 35वाँ ज्ञानदीक्षा समारोह 21 जुलाई 2019 को कुलाधिपति श्रद्धेय डॉ. प्रणव पण्ड्या जी की अध्यक्षता में.....

img

शिक्षण संस्थानों में परिचय के नाम पर उत्पीड़न नहीं, विद्यारंभ संस्कार होना चाहिए

देव संस्कृति विश्वविद्यालय के 35वें ज्ञानदीक्षा समारोह में केन्द्रीय मानव संसाधन मंत्री का संदेश   यह ज्ञानदीक्षा समारोह जीवन के.....