Published on 2019-05-24

गायत्री शक्ति पीठ कुर्सी रोड, लखनऊ में 14 मई, 2019 को "आओ गढ़े  संस्कारवान पीढ़ी " विषय पर एक दिवसीय प्रशिक्षण  कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की शुरुआत डॉ० गायत्री शर्मा, डॉ० ओ पी शर्मा, मेजर वी के खरे और डॉ० ए पी शुक्ला द्वारा दीप प्रज्वलित कर की गई। डॉ० गायत्री शर्मा ने अपने उद्बोधन में बताया कि हर माता-पिता शारीरिक रूप से स्वस्थ, अच्छा दिखने वाला, बुद्धिमान और संस्कारी बच्चा पाने की इच्छा रखते हैं । आज विज्ञान द्वारा  यह सिद्ध किया जा चुका है कि बहुत हद तक, माँ के गर्भ में ही बच्चे के शारीरिक, मानसिक और आध्यात्मिक विकास को, वांछित दिशा में आकार दिया जा सकता है। अत: इसके लिए, गर्भ धारण के तुरंत बाद से शिशु के जैविक और आंतरिक विकास का पोषण करना आवश्यक है। इस तरह प्रत्येक परिवार में राम जैसे दिव्य अवतारी सत्ताओ और विवेकानंद, गांधी, एपीजे अब्दुल कलाम, आइंस्टीन आदि जैसे महान व्यक्तित्व वाली आत्माओ को जन्म दिया जा सकता हैं। डॉ० ओ पी शर्मा और मेजर वी के खरे ने स्वयंसेवकों को उनके अनुभव के आधार पर प्रेरित किया। सुश्री निधि वर्मा ने इस अवसर पर  गर्भवती माता के आहार के बारे में एवं सुश्री रितु सिंह ने गर्भावस्था के दौरान शिशु से संवाद तथा श्रीमती अर्चना ने योग, व्यायाम, प्राणायाम,ध्यान आदि विषय पर विस्तृत जानकारी दी | प्रतिभागियों ने परियोजना को उत्तर प्रदेश के सभी 75 जिलों में ले जाने की शपथ भी ली। कार्यशाला के दौरान इस विषय के दुर्लभ वैज्ञानिक ज्ञान का प्रसार करने के लिए 5-6 सक्रिय स्वयंसेवकों की 8 टीमों का आठ जोन में कार्य करने हेतु गठन किया गया | इस कार्यक्रम में लखनऊ गायत्री परिवर के लगभग 200 स्वयंसेवकों ने पूरे उत्साह के साथ भाग लिया। कार्यक्रम में विशेष योगदान लखनऊ की जनपदीय समन्वयक श्री मती पूनम शर्मा, डा. के.सी.शर्मा, श्री पी.डी. सारस्वत, प्रांतीय सह-समन्वयक श्रीमती रीता सारस्वत तथा डा० ऐ.पी.शुक्ला, व्यस्थापक, गायत्री शक्ति पीठ, कुर्सी रोड, लखनऊ  का रहा | श्री मती पूनम शर्मा व डा. के.सी.शर्मा ने प्रांतीय कार्यालय पर अपना समय देने का संकल्प लिया | श्रीमती पूनम शर्मा और श्रीमती रीता सारस्वत को परियोजना के जिला और राज्य स्तर के समन्वयक के रूप में पुनर्नामित किया गया। गायत्री शक्तिपीठ, कुरसी रोड, मेजर वीके खरे के मुख्य प्रबंध न्यासी ने कुर्सी रोड शक्ति पीठ से परियोजना को पूरा करने के लिए सभी सहायता प्रदान करने की घोषणा की। तदनुसार, गायत्री शक्तिपीठ कुर्सी रोड को इस परियोजना का राज्य स्तरीय मुख्यालय घोषित किया गया | जिस पर उपस्थित शांति कुञ्ज के वरिष्ठ प्रथिनिधियो द्वार प्रसन्नता व्यक्त की गयी Normal 0 false false false EN-US X-NONE HI /* Style Definitions */ table.MsoNormalTable {mso-style-name:"Table Normal"; mso-tstyle-rowband-size:0; mso-tstyle-colband-size:0; mso-style-noshow:yes; mso-style-priority:99; mso-style-qformat:yes; mso-style-parent:""; mso-padding-alt:0in 5.4pt 0in 5.4pt; mso-para-margin-top:0in; mso-para-margin-right:0in; mso-para-margin-bottom:10.0pt; mso-para-margin-left:0in; line-height:115%; mso-pagination:widow-orphan; font-size:11.0pt; mso-bidi-font-size:10.0pt; font-family:"Calibri","sans-serif"; mso-ascii-font-family:Calibri; mso-ascii-theme-font:minor-latin; mso-hansi-font-family:Calibri; mso-hansi-theme-font:minor-latin; mso-bidi-font-family:Mangal; mso-bidi-theme-font:minor-bidi;}


Write Your Comments Here:


img

Gayatri jayati puri dhum dhum se manai gai

Chhotaipatti sadar darbhanga me 2 june huai 33 sthano per grihe grihe gayatri yag ki purna huti ke rup me 12 june ko gayatri jayanti bare hi utsah purwak manai gai.....

img

गायत्री जयंती पर्व

कांकेरझुनियापारा के गायत्री मंदिर में पांच कुण्डीय गायत्री महायज्ञ का समापनPublish Date:Thu, 13 Jun 2019 08:23 AM (IST)शहर के ज्ञानी ढाबा के पास झुनियापारा के नव निर्मित गायत्री मंदिर के प्रागंण में दो दिवसीय पांच कुण्डीय गायत्री महायज्ञ व प्रज्ञा.....