Published on 2019-06-21 HARDWAR

गायत्री तीर्थ में कई हजार ने की भागीदारी 
हरिद्वार 21 जून।

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर गायत्री तीर्थ शांतिकुंज में योग कार्यक्रम आयोजित हुआ। इस मौके पर देश-विदेश से आये साधक, शांतिकुंज के अंतेवासी भाई-बहिन, देवसंस्कृति विश्वविद्यालय परिवार, स्काउट गाइड, गायत्री विद्यापीठ आदि ने योगाभ्यास किया।
                कार्यक्रम की शुरुआत सुमधुर संगीत से हुआ। पश्चात अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के मानकों पर आधारित योगासनों एवं प्राणायामों के विभिन्न विधाओं का अभ्यास कराया गया। इस अवसर पर अपने संदेश में गायत्री परिवार प्रमुख श्रद्धेय डॉ. प्रणव पण्ड्या ने कहा कि योग दुःखनाशक है। योग जीवन शैली को सुधारता है। योग हमारी चेष्टाओं को व्यवस्थित करता है। अपने मेडिकल जीवन को याद करते हुए उन्होंने कहा कि योग से मानव जीवन को स्वस्थ व सुदृढ़ बनाया जा सकता है। योग से कई बीमारियों को जड़ से मिटाया जा सकता है। समापन से पूर्व अखिल विश्व गायत्री परिवार प्रमुख ने शरीर को स्वस्थ, मन को स्वच्छ व अंतःकरण को पवित्र बनाये रखने के लिए जीवन साधना के साथ आसन व प्राणायाम को दैनिक जीवन का अंग बनाने तथा अपने निकटवर्ती सहयोगियों को योग के लिए प्रेरित करने हेतु संकल्पित कराया। जिसे उपस्थित योग साधकों ने हाथ उठाकर अपनी सहमति प्रकट किया।
                वहीं देव संस्कृति विश्वविद्यालय व अखिल विश्व गायत्री परिवार के योगाचार्यों ने विभिन्न देशों तथा देश के जिला मुख्यालयों तथा पांच हजार से अधिक प्रज्ञा संस्थानों में योगाभ्यास कराया। शांतिकुंज से संदीप कुमार, शिवनारायण प्रसाद, छबिराम गढ़िया व हरिप्रसाद चौधरी ने कनाडा, पुष्कर राज व रमेश तिवारी ने इंग्लैण्ड, शांतिभाई पटेल व नागमणि शर्मा ने मॉरीशस तथा प्रो. प्रमोद भटनागर ने फिजी में योगाभ्यास कराया। तो वहीं देसंविवि के योगाचार्यों डॉ सुनील कुमार, डॉ. असीम कुलश्रेष्ठ, डॉ. राकेश वर्मा, डॉ. कमल किशोर यादव, डॉ. कामता साहू आदि की टीम ने शिमला, देहरादून, हरिद्वार, मसूरी, नई दिल्ली, कानपुर सहित अनेक स्थानों में योगाभ्यास कराया।
                शांतिकुंज में आयोजित पाँचवाँ अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर व्यवस्थापक श्री शिवप्रसाद मिश्र, मनीषी श्री वीरेश्वर उपाध्याय, श्री केसरी कपिल जी, डॉ. ओपी शर्मा, डॉ. बृजमोहन गौड़, श्री कालीचरण शर्मा, डॉ. गायत्री शर्मा आदि प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।


Write Your Comments Here:


img

गायत्री तीर्थ शांतिकुंज में तीन दिवसीय युवा सम्मेलन का आज समापन

क्षमता का विकास करने का सर्वोत्तम समय युवावस्था - डॉ पण्ड्याराष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के युवाओं को तीन दिवसीय सम्मेलन का समापनहरिद्वार 17 अगस्त।गायत्री तीर्थ शांतिकुंज में तीन दिवसीय युवा सम्मेलन का आज समापन हो गया। इस सम्मेलन में राष्ट्रीय राजधानी.....

img

देसंविवि के नये शैक्षिक सत्र का शुभारंभ करते हुए डॉ. पण्ड्या ने कहा - कर्मों के प्रति समर्पण श्रेष्ठतम साधना

हरिद्वार 26 जुलाई।देसंविवि के कुलाधिपति श्रद्धेय डॉ. प्रणव पण्ड्या ने विश्वविद्यालय के नवप्रवेशी छात्र-छात्राओं के नये शैक्षिक सत्र का शुभारंभ के अवसर पर गीता का मर्म सिखाया। इसके साथ ही विद्यार्थियों के विधिवत् पाठ्यक्रम का पठन-पाठन का क्रम की शुरुआत.....

img

दे.स.वि.वि. के ज्ञानदीक्षा समारोह में भारत के 22 राज्य एवं चीन सहित 6 देशों के 523 नवप्रवेशी विद्यार्थी हुए दीक्षित

जीवन खुशी देने के लिए होना चाहिए ः डॉ. निशंकचेतनापरक विद्या की सदैव उपासना करनी चाहिए ः डॉ पण्ड्याहरिद्वार 21 जुलाई।जीवन विद्या के आलोक केन्द्र देवसंस्कृति विश्वविद्यालय शांतिकुंज के 35वें ज्ञानदीक्षा समारोह में नवप्रवेशार्थी समाज और राष्ट्र सेवा की ओर.....