Published on 2019-07-26 HARDWAR
img

तरुमित्र योजना से प्रभावित हैं प्रिंस गाज़ी
आईसीसीएस में प्रिंस गाज़ी और डॉ. चिन्मय जी की वार्ता अलग- अलग स्थानों पर हुई, दो घंटे चली। पिछली बार जब दोनों की लंदन में मुलाकात हुई थी, तब गायत्री परिवार की तरुपुत्र- तरुमित्र योजना तथा गायत्री परिवार द्वारा पर्यावरण संरक्षण के लिए किये जा रहे कार्यों पर विस्तृत चर्चा हुई थी, जिसका उन्हें स्मरण था।
सिंगापुर की मीटिंग में यह चर्चा आगे बढ़ी। वे कई योजनाओं को वैश्विक स्तर पर क्रियान्वित कराना चाहते हैं, उन्हीं में से एक है परम पूज्य गुरुदेव की तरुमित्र योजना से प्रेरित वृक्षारोपण अभियान। वे इसे यूके, यूरोप, मध्य पूर्व के देशों और भारत में गतिशील करने के लिए उत्साहित हैं।
प्रिंस गाज़ी ने वैश्विक स्तर पर वृक्षारोपण को गति देने का प्रस्ताव प्रिंस चार्ल्स के समक्ष रखा और शांतिकुंज आने का निवेदन भी किया, जिसे उन्होंने तत्काल स्वीकार कर लिया। वे संयुक्त राष्ट्र में एक अंतरर्राष्ट्रीय घोषणा पत्र लाना चाहते हैं, जिससे समस्त पर्यावरण को एक जैविक इकाई घोषित कर दिया जाय। इससे पर्यावरण को नुकसान पहुँचाना किसी के लिए भी संभव नहीं होगा।वे यह घोषणा पत्र सन् २०२० में संयुक्त राष्ट्र की महासभा में प्रस्तुत करने के इच्छुक हैं। आईसीसीएस में हुई वार्ता में इसका आरंभिक प्रारूप तैयार किया गया। इसे सर्वस्वीकार्य स्वरूप प्रदान करने के लिए आगे का कार्य श्रद्धेय डॉ. प्रणव पण्ड्या जी एवं श्रद्धेया जीजी के मार्गदर्शन में होगा।


Write Your Comments Here:


img

दुबई में आयोजित योग सम्मेलन में देव संंस्कृति विश्वविद्यालय की भागीदारी

श्रीराम योग सोसाइटी एवं साधना वे योग सेण्टर कनाडा द्वारा देव संस्कृति विश्वविद्यालय हरिद्वार के सहयोग से दुबई में दो.....

img

ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय में ‘फेथ इन लीडरशिप’ के अध्ययन- प्रोत्साहन के लिए केन्द्र का शुभारम्भ

ऑक्सफोर्ड  विश्वविद्यालय ‘नेतृत्व में आध्यात्मिक निष्ठा’ को प्रोत्साहित करने के लिए देव संस्कृति विश्वविद्यालय के साथ मिलकर कार्यक्रम चलाएगा। यह.....

img

लिथुआनिया पहुँची गुरुज्ञान की लाल मशाल

 अपने लंदन और यूरोप के दौरे में दे० सं० वि० वि० के प्रति कुलपति डॉ. चिन्मय पंड्या जी ने बाल्टिक समुद्र के पास स्थित लिथुआनिया देश का दौरा किया जिसमे अनेक महत्वपूर्ण उपलब्धियाँ के पुष्पगुच्छ उन्होंने दिवाली के पावन पर्व.....