Published on 2019-08-14
img

रायपुर। छत्तीसगढ़

वरिष्ठ परिजन श्री शिरीष एस. टिल्लू द्वारा 17 जुलाई को शबरी आश्रम, रायपुर में अखण्ड ज्योति पाठक सम्मेलन आयोजित हुआ। मुख्य अतिथि श्री सुरेन्द्र जायसवाल एवं श्रीमती तृप्ति सिन्हा, एम.डी. विद्युत् विभाग और मुख्य वक्ता शान्तिकुञ्ज प्रतिनिधि श्री योगेन्द्र गिरि एवं श्री जयराम मोटलानी थे। उनके वक्तव्य में अखण्ड ज्योति पाठक के विचारों के चमत्कारिक प्रभाव की चर्चाओं ने श्रोताओं में नये उत्साह का संचार किया।


श्रीमती तृप्ति सिन्हा ने कहा कि अखण्ड ज्योति के स्वाध्याय से मुझे जीवन जीने की नयी दिशा मिली। आयुर्वेदिक डॉक्टर श्रीमती डेढ़सेना जी ने अखण्ड ज्योति को नया चिन्तन देने वाली, हर समस्या का समाधान करने वाली संजीवनी बूटी बताया। जोन समन्वयक
श्री दिलीप पाणिग्रही ने भी अपने विचार व्यक्त किये।

रायपुर में विद्युत सेवा भवन में छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत कम्पनियों के सभी एम.डी., एच. ओ. डी. एवं विशिष्ट स्टाफ के बीच भी ‘कॉर्पोरेट चैलेंजेस एण्ड स्प्रिचुएलिटी एट वर्कप्लेस’ पर एक दिवसीय कार्यशाला हुई। विशिष्ट अतिथि श्री एस.वी.आर. मूर्ति, एम.डी. व श्रीमती तृप्ति सिन्हा, एम.डी. की उपस्थिति में केन्द्रीय प्रतिनिधियों ने यहाँ पूज्य गुरुदेव के सकारात्मक, सृजनात्मक क्रांतिकारी विचारों की बानगी प्रस्तुत की।


कोरबा। छत्तीसगढ़

श्री शिरीष शरद टिल्लू के सौजन्य से कोरबा में एस.जी.पी.टी. पावर स्टेशन एवं हसदेव थर्मल पावर स्टेशन में इंजीनियर्स एवं स्टॉफ के बीच एक- एक दिन की कार्यशालाएँ हुर्इं। श्री एस.पी. चेलकर, श्री आर.एस. शर्मा व
श्री सुनील नायक की विशेष उपस्थिति में शान्तिकुञ्ज प्रतिनिधि श्री योगेन्द्र गिरि एवं श्री जयराम मोटलानी ने इन्हें संबोधित किया, विषय था ‘आत्म प्रबंधन और तनाव प्रबंधन से समस्याओं का समाधान’।

श्री योगेन्द्र गिरि ने कहा कि मनुष्य अस्त- व्यस्त जीवन जीता है और क्षमता से परे की अनुचित महत्त्वाकांक्षाएँ पालता है तो स्वाभाविक है उसे तनाव रहेगा। हम अपनी कामना- वासनाओं, लालसाओं पर नियन्त्रण करना सीख लें तो जीवन की अनेकानेक समस्याओं का समाधान स्वत: ही होता चला जायेगा।

सीनियर क्लब के कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथियों में श्री आर. पाठक जी, श्री एच.एन. कोसरिया व श्री बी.डी. बघेल उपस्थित रहे।
एक कार्यशाला अटल बिहारी पॉवर स्टेशन, मड़वा, जाँजगीर में भी सम्पन्न हुई। यहाँ प्रतिभागियों को सामान्य योगासन, प्राणायाम एवं ध्यान के व्यावहारिक स्वरूप पर मार्गदर्शन दिया गया।


Write Your Comments Here:


img

श्री राम बाल संस्कारशाला, ग्राम मोरा, हरिद्वार रोड़, मुरादाबाद।

पिछले पांच वर्षों से नित् रविवार यज्ञ का अनुष्ठान किया जाता है, जिससे दलीत और मजदूर समाज सर्वांगीण विकास की ओर बढ़ रहा है, और अध्यात्म की अनुभूति करने लगा है, जिससे क्षेत्र कुरीतियों और आडम्बरों से दूर होते जा.....

img

Meeting

Up Jon Gwalior ki meting.....