Published on 2019-11-13
img

विद्यार्थियों को जीने की सही राह दिखाने के लिए निरंतर सक्रिय दिया, छत्तीसगढ़
भिलाई। छत्तीसगढ़
दिया, छत्तीसगढ़ द्वारा बी.एस.पी. इंग्लिश मीडियम मिडिल स्कूल रुआबांधा, इ.एम.एम. स्कूल सेक्टर-6 और कल्याण कॉलेज के वनस्पति शास्त्र विभाग में व्यक्तित्व परिष्कार कार्यशालाओं का आयोजन किया गया। इनके माध्यम से सैकड़ों विद्यार्थियों को उद्देश्यपूर्ण जीवन की प्रेरणा और व्यक्तित्व परिष्कार के बहुमूल्य सूत्र प्रदान किए गए।

दिया, छत्तीसगढ़ के संयोजक डॉ. पी. एल. साव ने कहा कि आज की युवा पीढ़ी चकाचौंध और भागदौड़ की दुनिया के प्रवाह में अपने लिए खुद ही परेशानियों का जाल बुन रही है और उसमें फँसती जा रही है। उन्होंने विद्यार्थियों को आध्यात्मिक जीवन जीते हुए मन एवं इंद्रिय को संयमित कर उत्कृष्टता की ओर अग्रसर होने के सूत्र दिए।

इंजि. युगल किशोर ने कहा कि सामान्य व्यक्तित्व कच्चे घड़े के सामान है, जो पानी डालते ही बिखर जाता है। लेकिन दृढ़ संकल्प शक्ति, इच्छा शक्ति, एकाग्रता, आत्म विश्वास से उसे परिष्कृत कर लिया जाय तो वही महान बनता जाता है।

डॉ. योगेन्द्र कुमार ने अपने आपको व्यवस्थित करने के लिए दैनिक डायरी और बड़े लक्ष्यों को छोटे-छोटे उपलक्ष्यों में बाँटकर उन्हें पूरा करने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि युवाओं में समय संयम का न होना ही तनाव का मुख्य कारण है।
प्रो. सुकुमार नायडू का विशेष योगदान रहा। मंच संचालन श्री हरीश साहू ने किया।


Write Your Comments Here:


img

Webinor युग सृजेता युवा संगम

गायत्री परिवार ट्रस्ट, पचपेड़वा, बलरामपुर यू पी मे webinor का कार्यक्रम संजय कुमार ( ट्रस्टी) के आवास पर संपन्न कराया गया. लगभग 15 युवाओं तथा 10 वरिष्ठ परिजनों ने इस webinor मे भाग लिया......

img

अभी तो

अभी तो मथने को सारा समुंद्र बाकी है,अभी तो रचने को नया संसार बाकी है,।अभी प्रकृति ने जना कहां नया विश्व है ?अभी तो गढ़ने को नया इंसान बाकी है।।अभी तो विजय को सारा रण बाकी है,अभी तो करने.....

img

सभी बढें हैं

सभी बड़े हैं ,सभी चले हैं गुरुवर तेरी राहों में।तरह तरह के फूल खिले हैं ,गुरुवर तेरी छांव ।।तपती हुई रेत थी नीचे, ऊपर जेठी घाम थीदुनिया में तो चहु ओर से मिली तपिश है आग की ,आकर मिली हिमालय.....