Published on 2019-12-28
img

मूलताई, बैतूल। म.प्र.

गायत्री शक्तिपीठ मूलताई के प्रयास से ग्राम नरखेड में नये गायत्री चेतना केन्द्र, गौशाला एवं स्वावलम्बन प्रशिक्षण केन्द्र बनने जा रहा है। इसका भूमिपूजन 22 नवम्बर 2019 को देवसंस्कृति विश्वविद्यालय के प्रतिकुलपति
डॉ. चिन्मय पण्ड्या जी के हाथों हुआ है। 1 दिसम्बर 2019 को गायत्री परिवार मूलताई, गायत्री प्रज्ञापीठ नरखेड एवं मंगोनाकला के परिजनों ने मिलकर इस भूमि से लगी छोटी नदी पर बोरियों का बाँध बाँधा। इससे नदी पर अधिक दिनों तक जल संचित होगा और उसका लाभ पशु- पक्षियों को मिलेगा। इस महान उद्देश्य में डॉ. रामदास गदेकर, रामसिंह जी, श्यामराव जी, नारायण जी, संपतराव जी, गुलाब राव, शंकर राव, राजू साहू, सुभाष जी आदि ने श्रमदान किया।


Write Your Comments Here:


img

माता भगवती भोजनालय

भोपाल। मध्य प्रदेश 8 दिसम्बर 1993 में भोपाल के विशाल जम्बूरी मैदान में अश्वमेध महायज्ञ सम्पन्न हुआ। लाखों लोगों ने.....

img

वार्षिकोत्सव में डीएम सहित वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी और सामाजिक संस्थाओं की भागीदारी

बुलंदशहर। उत्तर प्रदेशश्री गायत्री संस्कार पीठ पन्नीनगर,बुलंदशहर के पंचम वार्षिकोत्सव मेंप्रतिभावानों का अद्भुत संगम हुआ।यह कार्यक्रम 17 से 19 जनवरी कीतिथियों में 24 कुण्डीय महायज्ञ के साथ आयोजित था। डीएम रविन्द्रकुमार, सीडीओ सुधीर रूंगटा,एडीएम प्रशासन रवीन्द्र कुमार सहितडीडीओ, एसडीएम, कोतवाल.....