Published on 2020-01-03
img

लखनऊ शाखा की 330वीं वाङ्मय स्थापना 14 दिसम्बर को न्यू एरा गर्ल्स इण्टर कालेज भरत नगर, सीतापुर रोड, लखनऊ के केन्द्रीय पुस्तकालय में हुई। लखनऊ शाखा की सक्रिय कार्यकर्त्ता श्रीमती कुसुम श्रीवास्तव ने अपने मातापिता स्व. लक्ष्मी श्रीवास्तव एवं बृज बहादुर श्रीवास्तव की स्मृति में संस्थान के पुस्तकालय को सम्पूर्ण 79 खण्ड वाङ्मय का सेट भेंट किया।

इस अवसर पर श्री उमानंद शर्मा एवं डॉ. नरेन्द्र देव ने छात्र- छात्राओं को वाङ्मय का महत्त्व तथा निरोगी जीवन के सूत्र बताए। श्रीमती कुसुम श्रीवास्वत एवं संस्थान के निदेशक श्री ए. के. बधावन ने भी अपने विचार रखे। प्रधानाचार्या श्रीमती नीता सहगल ने इस पुण्यपरक कार्य के लिए गायत्री परिवार को धन्यवाद दिया। श्री अनिल भटनागर, नवीन चन्द्र श्रीवास्तव, सिद्वान्त बधावन, श्रीमती सीमा बधावन सहित समस्त शिक्षक- शिक्षिका इस कार्य को सराहा। छात्र- छात्राओं को युगऋषि के उत्कृष्ट विचारों वाले साहित्य की स्थापना से अत्यंत प्रसन्नता हुई।


Write Your Comments Here:


img

विश्वविद्यालय ने शक्तिपीठ,लंका को साहित्य प्रदर्शनी के लिए किया आमंत्रित,प्रदर्शनी में बड़ी संख्या में उमड़े विद्यार्थी

https://m.facebook.com/story.php?story_fbid=pfbid02d9i2apKibnvtMp6JLt7gvYy5xeYDc5pJpJmkmPTJK7Y9oqWeNbyj3jwgaW85m2dPl&id=100050487125471&sfnsn=wiwspmo&mibextid=RUbZ1f*31जनवरी, म.गां.काशी विद्यापीठ विश्वविद्यालय,वाराणसी।🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺अधिक फोटो देखने के लिए फेसबुक लिंक पर क्लिक करें🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺 मुझे ढूंढना है तो मेरे चित्र में नहीं,मेरे साहित्य में ढूंढो।मैं व्यक्ति नहीं विचार हूं।साहित्य.....

img

हजारों सृजन सैनिकों की उपस्थिति में संपन्न हुआ युगऋषि का आध्यात्मिक जन्मदिवस बसंत पर्व

26 जनवरी,गायत्री शक्तिपीठ,लंका। युगऋषि,वेदमूर्ति,तपोनिष्ठ पंडित श्रीराम शर्मा आचार्य जी के आध्यात्मिक जन्मदिवस बसंत पर्व संग गणतंत्र दिवस का अद्भुत संयोग* से हम सभी के उत्साह में गुणात्मक वृद्धि देखने को मिली।🌻🌻🌻🌻🌻इसी क्रम में *अपने मार्गदर्शक.....

img

गायत्री शक्तिपीठ लंका नारी जागरण प्रकोष्ठ ने स्नेहसलिला के जन्मशताब्दी वर्ष 2026 तक 1008 नई बहनों को तलाश तराश कर वंदनीय माताजी को हार रूप में पहनाने का लिया संकल्प

22 जनवरी, शक्तिपीठ, लंका। अखिल विश्व गायत्री परिवार शांतिकुंज हरिद्वार के तत्वावधान में निरंतर युगऋषि के सपनों का शक्तिपीठ बनने की ओर अग्रसर व प्रयासरत गायत्री.....